Saturday, October 16, 2021
Home स्वास्थ्य एम्स: हैल्थ रिसर्च में उपयोगी डेटा एनालिसिस पर कार्यशाला का आयोजन

एम्स: हैल्थ रिसर्च में उपयोगी डेटा एनालिसिस पर कार्यशाला का आयोजन

सत्येंद्र सिंह चौहान
ऋषिकेश, 21 सितंबर।

                                                                                                                                                                                           एम्स ऋषिकेश में 7 दिवसीय ‘रिग्रेशन मॉडलिंग इन हैल्थ रिसर्च यूजिंग आईबीएम एसपीएसएस’ विषय पर हाई एंड कार्यशाला का 20 से 26 सितंबर तक आयोजन किया जा रहा है। कम्युनिटी एवं फेमिली मेडिसिन विभाग द्वारा आयोजित यह कार्यशाला साइंस एवं इंजीनियरिंग रिसर्च बोर्ड, डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, भारत सरकार के सहयोग से की जा रही है।

                                                                                                                                                                                                      कार्यशाला का उद्घाटन मंगलवार को एम्स ऋषिकेश निदेशक प्रोफेसर अरविन्द राजवंशी ने किया। उद्घाटन के दौरान निदेशक प्रो. राजवंशी  ने इस तरह की कार्यशाला के आयोजन के लिए आयोजक मंडल की सचिव डा.रंजीता कुमारी एवं आयोजन मंडल की पहल को सराहा और उम्मीद जताई कि इस कार्यशाला के माध्यम से मेडिकल विद्यार्थियों को स्वयं अपने हाथों से सीखने का मौका मिलेगा। उन्होंने सुझाव दिया कि इस कार्यशाला का उपयोग कोविड19 की भविष्य की स्थिति को जानने के लिए किया जा सकता है।  निदेशक एम्स ने कहा ​कि इसके माध्यम से हम पूर्व में किए गए कार्यों का आंकलन कर भविष्य की योजना पर कार्य कर सकते हैं। उन्होंने प्लानिंग, गतिविधियों के आयोजन और योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए सामुदायिक एवं पारिवारिक चिकित्सा विभाग को बेहतर बताया और विभाग के कार्यों को सराहा।

        

  इस अवसर पर संस्थान के डीन एकेडमिक प्रोफेसर मनोज गुप्ता ने कहा कि रिसर्च बेस्ड मेडिसिन अति महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि  यह एक शोधपूर्ण विज्ञान है, लिहाजा अनुसंधान को प्रत्येक संस्थान में बढ़ावा दिया जाना चाहिए। उन्होंने जोर दिया कि रिसर्च सभी के लिए अनिवार्य होनी चाहिए। इस दौरान उन्होंने रिसर्च विधि पर भी प्रकाश डाला। डीन ने बताया कि  एम्स निदेशक प्रो. राजवंशी की अगुवाई में पीजीआई चंडीगढ़ में काफी अधिक रिसर्च कार्य हुआ है।                                                                                                      

  सीएफएम विभागाध्यक्ष प्रोफेसर वर्तिका सक्सैना  ने  रीग्रेसन मॉडलिंग की आवश्यकता के बारे में प्रतिभागियों को अवगत कराया एवं बताया कि यह एक डेटा एनालिसिस का तरीका है ,जिसका उपयोग हैल्थ रिसर्च के क्षेत्र में किया जाता है। उन्होंने बताया कि इसमें कई प्रकार के डाटा प्रबन्धन टूल शामिल हैं और यह गहराई से विश्लेषण करने और सांख्यकीय जानकारी प्राप्त करने की क्षमता प्रदान करता है।

कार्यशाला में देश के विभिन्न राज्यों से पीएचडी स्कॉलर और मेडिकल के पीजी स्टूडेन्ट्स प्रतिभाग कर रहे हैं। इसमें एम्स ऋषिकेश और एम्स भटिंडा के विशेषज्ञों सहित देहरादून और अन्य क्षेत्रों के स्वास्थ्य संस्थानों के विशेषज्ञ व्याख्यान प्रस्तुत करेंगे । जिसमें डा.रंजीता कुमारी डा.भोला नाथ, डा.योगेश बहुरूपी, डा आंचल अवस्थी, डा.अनंत अवस्थी, डा. पुनीत कुमार गुप्ता, डा सोनम माहेश्वरी एवं मिस सुश्मिता राय शामिल हैं।

इस अवसर पर आयोजन कमेटी की सचिव डा. रंजीता कुमारी ने कार्यशाला के आयोजन के उद्देश्य के बारे में प्रतिभागियों को अवगत कराया एवं कार्यशाला के महत्व पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर सीएफएम विभाग के डा. प्रदीप अग्रवाल, डा. संतोष कुमार,डा.स्मिता सिन्हा, डा. मीनाक्षी खापरे,डा.महेंद्र सिंह, डा.अजीत भदौरिया एवं आयोजन समिति के सदस्य डा. योगेश बहुरूपी, डा. निसर्ग, डा. प्रतीक आदि मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

पहल: जागरुकता की अलख जगाने निकला एम्स का ’ट्रॉमा रथ’

राज्यभर के मेडिकल कॉलेज और अस्पतालों में पहुंचेंगे ट्रामा विशेषज्ञ सड़क दुर्घटनाओं के दौरान आघात चिकित्सा का देंगे प्रशिक्षण सत्येंद्र सिंह चौहान  ऋषिकेश, 13 अक्टूबर। उत्तराखंड में...

एम्स प्रशासन पर छात्रा को रात नौ बजे हास्टल से निकालने का आरोप, विरोध में प्रदर्शन

ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश में बीएससी एलाइड हेल्थ साइंसेज पाठ्यक्रम में अध्ययनरत एक छात्रा ने एम्स प्रशासन पर बेवजह हास्टल से बाहर...

कोरोना के बीच डेंगू से हुई प्रदेश में पहली मौत

हरिद्वार। प्रदेश अभी कोरोना के बढ़ते प्रकोप से सुधर ही रहा था की डेंगू ने अपनी दस्तक दे दी है। हरिद्वार में डेंगू के...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

माता मंगला के जन्मदिन पर उत्तराखंड को सौगात, सीएम ने किया डायलिसिस केंद्र का लोकार्पण

देहरादून। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मोहकमपुर में हंस फाउंडेशन डायलिसिस केंद्र का लोकार्पण किया। माता मंगला के जन्मदिन के अवसर पर फाउंडेशन के...

गंगनहर को किया बंद, दीपावली पर छोड़ा जाएगा पानी

हरिद्वार। धर्मनगरी हरिद्वार से कानपुर तक जाने वाली उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग की गंगनहर को बीते रात से बंद कर दिया गया है। अब...

शहीदों के पार्थिव शरीर पहुंचे जॉलीग्रांट एयरपोर्ट, कैबिनेट मंत्री ने दी श्रद्धांजलि

देहरादून। जम्मू-कश्मीर के पुंछ में आतंकी हमले में उत्तराखंड के शहीद जवानों के पार्थिव शरीर हवाई जहाज से जॉलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंच चुके हैं। ऐसे...

भाजपा-कांग्रेस में चुनावी दांवपेंच की राजनीति शुरू

देहरादून। यशपाल आर्य की वापसी के बाद कांग्रेस और भाजपा में चुनावी दावपेंच की राजनीति शुरू हो गयी है। उत्तराखंड में कैबिनेट मंत्री हरक...

आईटीवीपी की पासिंग आउट परेड संपन्न, 38 जांबाज अफसरों ने ली शपथ

देहरादून। भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस अकादमी में 24 सप्ताह के कठोर प्रशिक्षण के बाद 38 असिस्टेंट कमांडेंट मेडिकल ऑफिसर के रूप में भारतीय तिब्बत...

शुभ प्रभात: जानिए, क्या कहते हैं आज़ आपके भाग्य के सितारे

आज़ का राशिफल: शनिवार, 16 अक्टूबर 2021 मेष (Aries)- आज के दिन ऊर्जावान रहते हुए, महत्वपूर्ण कामों में फोकस करें. कार्य में रुकावट मन को विचलित कर...

दशहरा पर हरिद्वार में नागा साधुओं ने किया शस्त्र पूजन

भैरव प्रकाश और सूर्य प्रकाश भालों का हुआ पूजन कुंभ में पेशवाई के आगे रहते हैं देव रूपी दोनों भाले हरिद्वार। आज दशहरा है। दशहरे के...

विसर्जन के साथ दुर्गा महोत्सव का समापन

भाव-विह्वल हुए भक्त अल्मोड़ा। सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा में दुर्गा महोत्सव का समापन हो गया है। 9 दिनों तक चले दुर्गा महोत्सव के बाद आज भव्य...

पेयजल ठेका कर्मचारियों की हड़ताल से खड़ा हुआ पानी का संकट

सबसे ज्यादा असर कुमांऊ मंडल में देहरादून। नैनीताल में अपनी 5 सूत्री मांगों को लेकर जल संस्थान के ठेका कार्य कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले...

22 नवंबर को बंद होंगे द्वितीय केदार श्री मध्यमहेश्वर के कपाट

तुंगनाथ के कपाट 30 अक्टूबर को होंगे बंद रुद्रप्रयाग। पंच केदारों के कपाट बंद होने की तिथियां घोषित हो गई हैं। द्वितीय केदार श्री मध्यमहेश्वर...