Sunday, November 28, 2021
Home उत्तराखंड अच्छी खबर:  एम्स में स्पेशल लंग क्लीनिक शुरू, फेफड़ों के कैंसर का...

अच्छी खबर:  एम्स में स्पेशल लंग क्लीनिक शुरू, फेफड़ों के कैंसर का उपचार होगा सुलभ

सत्येंद्र सिंह चौहान
ऋषिकेश, 03 सितंबर।  यदि आप धूम्रपान करते हैं और आपको लम्बे समय से खांसी की शिकायत के साथ थकान महसूस हो रही है, तो सावधान हो जाएं। यह लंग कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश के विशेषज्ञ चिकित्सकों के अनुसार कैंसर से होने वाली मौतों में सर्वाधिक मौतें लंग कैंसर की वजह से होती हैं। ऐसे मरीजों के लिए एम्स ऋषिकेश में अब स्पेशल लंग क्लीनिक शुरू किया गया है। इस क्लीनिक का संचालन प्रत्येक शुक्रवार को किया जाएगा।
                                                                                                                                                                                                       फेफड़े के कैंसर में फेफड़ों के किसी भाग में कोशिकाओं की अनियंत्रित व असामान्य वृद्धि होने लगती है। चिकित्सकों के अनुसार कई दफा फेफड़े के कैंसर का शुरुआती दौर में पता नहीं चल पाता है और यह अंदर ही अंदर बढ़ता जाता है। लिहाजा इसके लक्षण अक्सर विलंब से पता चलते हैं।
                                                                                                                                                                                                        इस बाबत एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत  ने बताया कि फेफड़े का कैंसर एक गंभीर बीमारी है लेकिन आधुनिक मेडिकल साइंस में हुई प्रगति के कारण अब कैंसर से छुटकारा संभव है। लक्षणों के आधार पर समय पर उपचार शुरू कर दिए जाने से कैंसर की गंभीर स्थिति से बचाव किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि एम्स ऋषिकेश में लंग कैंसर के लिए स्पेशल क्लीनिक संचालित किया जा रहा है। इस बीमारी के समुचित इलाज के लिए एम्स में सभी तरह की आधुनिक मेडिकल सुविधाएं और विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम उपलब्ध है।
                                                                                                                                                                                                 पल्मोनरी विभाग के एडिशनल प्रोफेसर डॉ. मयंक मिश्रा ने बताया कि बीड़ी-सिगरेट आदि धूम्रपान का सेवन करना फेफड़ों के कैंसर का सबसे बड़ा कारण है। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के तम्बाकू उत्पाद, खैनी, गुटखा, सिगार का सेवन करने, धुएं के संपर्क में रहने, घर या कार्य स्थल पर एस्बेस्टस या रेडॉन जैसे पदार्थों के संपर्क में आने और पारिवारिक इतिहास होने के कारण भी फेफड़ों का कैंसर हो सकता है।         
 आंकड़ों के अनुसार उत्तराखंड में लंग कैंसर के मरीजों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में एम्स ऋषिकेश में इस बीमारी से ग्रसित औसतन 40 से 50 मरीज प्रति माह आ रहे हैं। मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर एम्स के पल्मोनरी विभाग में अलग से लंग क्लीनिक संचालित किया जा रहा है। इस क्लीनिक में केवल लंग कैंसर से ग्रसित मरीज ही देखे जाएंगे।                                                                                                                                                                         
फेफड़ों के कैंसर के लक्षण
                                                                                                                                                                                                                 लंबे समय से खांसी-बलगम की शिकायत, खांसी में खून आना, सांस फूलना, सीने में दर्द, वजन का कम होना, चेहरे या गले में सूजन, आवाज बदल जाना, भूख कम लगना, लगातार थकान महसूस होना आदि इसके प्रमुख लक्षण हैं।
                                                                                                                                                                                                       
शुक्रवार को संचालित होगा लंग क्लीनिक
                                                                                                                                                                                                           पल्मोनरी विभाग के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. मयंक मिश्रा ने बताया कि लंग क्लीनिक प्रत्येक शुक्रवार को अपराह्न 2 से 4 बजे तक संचालित होगा। इस क्लीनिक में केवल वही मरीज देखे जाएंगे, जिन्हें पल्मोनरी विभाग की जनरल ओपीडी से रेफर किया गया हो। लिहाजा जरूरी है कि मरीज पहले पल्मोनरी की ओपीडी में अपना परीक्षण करा लें। क्लीनिक में पल्मोनरी विभाग के अलावा, मेडिकल ऑन्कोलॉजी, सर्जिकल ऑन्कोलॉजी और रेडिएशन ऑन्कोलॉजी के विशेषज्ञ चिकित्सक भी मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण करेंगे।
RELATED ARTICLES

आवाज़: किसान सभा और सीटू का सचिवालय कूच, एमएसपी कानून बनाने की उठाई मांग

  संवाददाता देहरादून, 27 नवंबर। दिल्ली बॉर्डर पर धरने पर बैठे किसानों के समर्थन में उत्तराखंड किसान सभा  और सीटू कार्यकर्ताओं ने सचिवालय कूच किया ।...

ट्रेन की चपेट में आने से हाथी के बच्चे की मौत

हरिद्वार। राजाजी टाइगर रिजर्व की के मोतीचूर रेंज में बीते रात ट्रेन की चपेट में आने से हाथी के बच्चे की मौत हो गई।...

देवस्थानम बोर्ड के विरोध में तीर्थ पुरोहितों ने किया सचिवालय कूच

देहरादून। देवस्थानम बोर्ड को भंग किए जाने की मांग को लेकर तीर्थ पुरोहितो ने आज सचिवालय कूच किया। शनिवार को तीर्थ पुरोहित और हक-हकूकधारी यहां...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

शुभ प्रभात: जानिए, क्या कहते हैं आज़ आपके भाग्य के सितारे

आज़ का राशिफल: रविवार, 28 नवंबर 2021 मेष राशि :- आज का दिन मिला-जुला रहेगा। कार्यक्षेत्र में कामकाज की अधिकता रहेगी, जिससे थकान का अनुभव...

आवाज़: किसान सभा और सीटू का सचिवालय कूच, एमएसपी कानून बनाने की उठाई मांग

  संवाददाता देहरादून, 27 नवंबर। दिल्ली बॉर्डर पर धरने पर बैठे किसानों के समर्थन में उत्तराखंड किसान सभा  और सीटू कार्यकर्ताओं ने सचिवालय कूच किया ।...

दिपांशी के प्रतियोगिता में दूसरा स्थान पाने पर खुशी की लहर

देहरादून। कर्तव्य प्रोडक्शन हाउस द्वारा आयोजित मिस उत्तराखण्ड 2021 कल्चर वर्ल्ड प्रतियोगिता में दिपांशी सिंह के दूसरा स्थान ग्रहण करने पर हाथी बड़कला क्षेत्र...

ट्रेन की चपेट में आने से हाथी के बच्चे की मौत

हरिद्वार। राजाजी टाइगर रिजर्व की के मोतीचूर रेंज में बीते रात ट्रेन की चपेट में आने से हाथी के बच्चे की मौत हो गई।...

देवस्थानम बोर्ड के विरोध में तीर्थ पुरोहितों ने किया सचिवालय कूच

देहरादून। देवस्थानम बोर्ड को भंग किए जाने की मांग को लेकर तीर्थ पुरोहितो ने आज सचिवालय कूच किया। शनिवार को तीर्थ पुरोहित और हक-हकूकधारी यहां...

सैनिक कल्याण मंत्री ने 56 शहीद स्वजनों को किया सम्मानित

हल्द्वानी। शहीद सम्मान कार्यक्रम का आयोजन रामलीला मैदान में किया गया। जहां बड़ी संख्या में शहीदों के स्वजन पहुंचे हैं और उन्हें ताम्र पत्र...

कॉलेज में ऑडिटोरियम की छत पर चढ़े छात्र, आत्महत्या की दी चेतावनी

रुद्रपुर। महाविद्यालय में एमएससी का कोर्स शुरू न होने से नाराज छात्रों ने आज कॉलेज परिसर में जमकर हंगामा किया। इस दौरान दो छात्र...

कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का करें पालनःसीएम धामी

देहरादून। प्रदेश की राजधानी दून में स्थित एफआरआई के 11 अधिकारियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। इसके...

मोबाइल लूट में दो शातिर गिरफ्तार

हरिद्वार। मोबाइल लूट के दो मामलों का खुलासा करते हुए पुलिस दो शातिरोें को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। लुटेरोें के कब्जे...

आर्या 2 का ट्रेलर रिलीज, शेरनी बनकर लौटीं सुष्मिता सेन

सुष्मिता सेन ने जब से वेब सीरीज आर्या 2 से अपना फर्स्ट लुक रिलीज किया था, तभी से इसके ट्रेलर को लेकर उत्सुकता बनी...