हन्नी सचदेवा को ऑफिसीरियल ब्रांड यूट्यूब चैनल में रिलीज की गई एलबम जिम वाली कुड़ी ने दी नई पहचान

Spread the love

ऋषिकेश। देश के उभरते हुए गायक कलाकार हन्नी सचदेवा अब किसी पहचान के मोहताज नहीं रहे। हन्नी सचदेवा सिर्फ एक गायक ही नहीं बल्कि बेहतरीन वीडियो डायरेक्टर , लिरिस्ट, स्क्रिप्ट राइटर और म्यूजिक डायरेक्टर भी है। इसके साथ हन्नी सचदेवा शोज, कंसर्ट्स और लाइव परफॉर्मेंस के कार्यक्रम भी प्रस्तुत करते हैं । यूं तो संगीत के क्षेत्र में टी सीरीज़ जैसे बड़े ब्रांड हन्नी सचदेवा की कई सफल एलबम लॉन्च कर चुके हैं।

जिन्हें मनोरंजन के क्षेत्र में काफी सफलता मिली है । लेकिन अभी हाल ही में हन्नी सचदेवा के ऑफिसीरियल ब्रांड यूट्यूब चैनल में रिलीज की गई एलबम जिम वाली कुड़ी ने उन्हें एक नई पहचान दी है यूं तो यह एल्बम युवाओं के दिलों की धड़कन बन चुकी है लेकिन एल्बम में पंजाबी गीत को जिस तरह के संगीत के साथ फिल्माया गया है यह हर उम्र के व्यक्ति को अपना मुरीद बनाने के लिए काफी है। हन्नी सचदेवा इसका पूरा श्रेय सर्व शक्तिमान ईश्वर, अपने पिता बंटी सचदेवा और अपनी पूरी टीम को दे रहे हैं ।

युवाओं के दिलों की धड़कन बन चुके हन्नी सचदेवा बेहद स्मार्ट और आकर्षक मॉडल भी हैं जिम वाली कुड़ी में हन्नी सचदेवा खुद लीड एक्टर के रूप में दुनिया के सामने आए हैं इस एलबम के माध्यम से उन्होंने अपनी एक्टिंग स्किल का प्रदर्शन कर दर्शकों का बेहद प्यार पाया है। इस वीडियो एल्बम में अभिनेत्री के रूप उनका साथ उज्जवल दुआ दे रही हैं । उज्जवल दुआ ने ही जिम वाली कुड़ी का किरदार बखूबी निभाया है इस एलबम की खास बात यह है कि गाने का संगीत भी खुद हन्नी सचदेवा ने ही दिया है जीतू गाबा ने गाने की मिक्सिंग और मास्टरिंग करके और भी निखार दिया है । हन्नी सचदेवा जिम वाली कुड़ी की सफलता का सारा श्रेय ईश्वर व अपने पिता बंटी सचदेवा और अपनी पूरी टीम को दे रहे हैं।

हन्नी सचदेवा ने बताया इस म्यूज़िकल एल्बम को कुछ ट्रेंड से हटकर बनाया गया है । वही एल्बम में सभी सीन सादगी भरे
और प्यार भरे यूज़ किए गए हैं । इसी वजह से यह एलबम हर उम्र के व्यक्ति की पहली पसंद बनती जा रही है। एल्बम में लीड रोल करने के लिए हन्नी सचदेवा को कई महीने तक जिम में पसीना बहाना पड़ा। वही इस एल्बम को तैयार करने में 6 महीने का समय लगा ।

नॉर्थ दिल्ली में रहने वाले 25 वर्षीय हन्नी सचदेवा को बचपन में अपने पिता को देखकर गीत संगीत के क्षेत्र में कदम रखने की प्रेरणा मिली थी उनके पिता बंटी सचदेवा धार्मिक भजन व गीतो के अच्छे गायकों में से एक हैं । बंटी सचदेवा के कई एल्बम टी सीरीज़ पर रिलीज़ हो चुके हैं 7 साल की उम्र में हन्नी सचदेवा धार्मिक गीत संगीत के कार्यक्रमों में पिता के साथ जाते थे ऐसे में बचपन से ही उन्हें संगीत से खासा लगाव हो गया था । ग्रेजुएशन करने के बाद उन्होंने संगीत के क्षेत्र में ज़्यादा से ज़्यादा ज्ञान हासिल करने के लिए पढ़ाई जारी रखी जिसकी बदौलत आज वह सफलता का हर मुकाम हासिल करने में कामयाब हो रहे हैं।

तीर्थ नगरी ऋषिकेश पहुंचने पर न्यू स्टार क्लब के प्रांतीय अध्यक्ष के के सचदेवा एवं समाजसेवी शुभम राजपूत ने उभरते कलाकार हन्नी सचदेवा व उसके पिता भजन सम्राट बंटी सचदेवा का भव्य सम्मान व अभिनंदन किया । प्रांतीय अध्यक्ष श्री के के सच देवा ने उन दोनों कलाकारों की उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उनको रुद्राक्ष की माला व गंगा जली भेंट की । इस अवसर पर गीता सचदेवा , मयंक चक्रवर्ती, ऐश्वर्या चक्रवर्ती ,अजय ब्रेजा ,नितिन चक्रधारी,भुवन महेंद्रु, योगेश ब्रेजा, शिखा, गोल्डी, विशाल अग्रवाल, सान्या सचदेवा, भूमिका महेंद्रु आदि ने भी हन्नी सचदेवा व बंटी सचदेवा का स्वागत व अभिनंदन किया ।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.