कांग्रेस का सत्याग्रह: केन्द्र पर लगाया संवैधानिक संस्थाओं के दुरुपयोग का आरोप

कांग्रेस का सत्याग्रह: केन्द्र पर लगाया संवैधानिक संस्थाओं के दुरुपयोग का आरोप
Spread the love

देहरादून। नेशनल हेराल्ड से जुड़े कथित मनी लॉन्ड्रिंग के मामले को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को मंगलवार को दूसरे दौर की पूछताछ के लिए ईडी ने बुलाया है। जिससे आक्रोशित उत्तराखण्ड कांग्रेस में केंद्र सरकार के खिलाफ धरना देकर प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों का आरोप है कि गांधी परिवार को डराने के लिए केंद्र सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।
मंगलवार को कांग्रेस जनों ने प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा के नेतृत्व में घंटाघर स्थित बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के समीप सत्याग्रह किया और केंद्र सरकार पर जमकर अपना आक्रोश व्यक्त किया। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि सत्याग्रह करने का उद्देश्य यह नहीं है कि कि हम प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई में बाधा उत्पन्न करना चाहते हैं, बल्कि भारत की जनता को जागरूक करना चाहते हैं कि केंद्र सरकार संवैधानिक संस्थाओं का दुरुपयोग करते हुए विपक्ष की आवाज को कुचलना चाहती है। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार लोकतंत्र की हत्या करने में लगी हुई है। पीसीसी चीफ करन माहरा ने कहा कि महाराष्ट्र के नेता नारायण राणे ने जब भाजपा छोड़ी तब उनके ऊपर ईडी और सीबीआई की जांच बैठा दी गई। जब भाजपा में वापस आए तब से सब जाचें बंद कर दी गईं। उन जांचों का क्या हुआ इसका स्टेटस किसी को नहीं पता। इसी तरह येदुरप्पा के ऊपर चल रही जांचों का भी कुछ अता पता नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा को इसे सार्वजनिक करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत में सिर्फ गांधी परिवार ही ऐसा है जो पीएम मोदी और अमित शाह की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ आवाज उठाता आ रहा है। ऐसे में केंद्र सरकार राहुल और सोनिया गांधी को डराने की नीयत से क्लीनचिट मिले केस को दोबारा उठा रही है।कांग्रेस पार्टी के सत्याग्रह में शामिल हुए पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने भी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार इस देश के लोकतंत्र पर लगातार प्रहार करते आ रही है और जो आवाज केंद्र सरकार के खिलाफ उठती है, उस आवाज को दबाने की नीयत से केंद्र की सरकार उनके ऊपर जांच एजेंसियों का दबाव बनाकर उन्हें डराने की कोशिश करती है। उन्होंने कहा कि हमारे नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी लगातार देश के ज्वलंत मुद्दे उठा रहे हैं, लेकिन केंद्र की मोदी सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करते हुए उन्हें डराने धमकाने की कोशिश कर रही है। इसे देश की जनता बड़े नजदीक से देख रही है।

Parvatanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published.