अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉल टूर्नामेंट सुब्रतो कप की दो साल के बाद वापसी, 6 सितंबर से शुरू होंगी प्रतियोगिताएं

Spread the love

नई दिल्ली।  सुब्रतो कप के 61वें संस्करण का आयोजन 2 साल के बाद होने जा रहा है। कोरोना के चलते इस प्रतियोगिता का आयोजन नहीं हो पाया था। सुब्रतो मुखर्जी स्पोर्टस एजुकेशन सोसाइटी एवं एयर फोर्स द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किये जाने वाले इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता की आज घोषणा की गयी जो कि 6 सितंबर से 13 अक्टूबर के बीच हर बार की तरह नई दिल्ली में खेला जाएगा। सुब्रतो मुखर्जी स्पोर्टस एजुकेशन सोसायटी के जनरल सेक्रेटरी एवं विंग कमांडर यशवंत सिंह पंघल ने कहा कि ‘मुझे ये बताते हुए काफी खुशी हो रही है कि सुब्रतो कप का आयोजन हम फिर से कर पा रहे हैं। जिसका उद्देशय भारत में ज़मीनी स्तर पर फ़ुटबाल को प्रमोट करना है। सितंबर में इस प्रतियोगिता का आयोजन होने करने जा रहे हैं।’

सुब्रतो कप का आयोजन 3 कैटेगरी में किया जाएगा। सब जूनियर बॉयज़ (अंडर-14) जिसकी शुरूआत 6 सिंतबर को होगी और 15 सितंबर को इसका फाइनल खेला जाएगा। जूनियर गर्ल्स (अंडर-17) जो 19 सितंबर से शुरू हो कर 28 सितम्बर तक खेला जाएगा। वहीँ जूनियर बॉयज़ (अंडर -17) केटेगरी की शुरुआत 3 अक्टूबर को होगी जिसका फाइनल 22 अक्टूबर को होगा और इसी दिन सुब्रतो कप का समापन समारोह भी निर्धारित है। सुब्रतो कप के उद्घाटन समारोह और फाइनल का सीधा प्रसारण डीडी स्पोर्टस पर होगा। वहीं इस प्रतियोगिता के विजेता,उपविजेताओं को विभीन्न आयु वर्ग में कुल 23 लाख की धन राशि दी जाएगी। अन्य धन राशि वाले पुरस्कार जैसे फेयर प्ले, बेस्ट प्लेयर, बेस्ट गोलकीपर, बेस्ट कोच एवं बेस्ट स्कूल हैं।

75 खिलाडिय़ों को मिलेगी छात्रवृत्ति

सुब्रतो कप में कई महानतम फुटबाल खिलाडिय़ों का एक पैनल तीनों श्रेणियों से 25 सर्वश्रेष्ठ खिलाडिय़ों को स्कालरशिप के लिए चुनेगा। जूनियर बॉयज़ केटेगरी एवं जूनियर गर्ल्स केटेगरी से चुने गए 25-25 बच्चों को 25 हज़ार की छत्रवृत्ति जबकि सब-जूनियर्स बॉयज़ श्रेणी से टॉप 25 बच्चों को 15 हज़ार की स्कॉलर्शिप प्रदान की जाएगी।

भविष्य के कई भारतीय फुटबॉलरों के लिए पहला कदम
अतीत और वर्तमान के कई प्रमुख भारतीय फ़ुटबॉल खिलाड़ी जिन्होंने देश को सम्मानित किया है वह सुब्रतो कप रैंक के माध्यम से राष्ट्रीय टीम में गए थे। श्याम थापा और बाईचुंग भूटिया जैसे दिग्गजों के साथ-साथ रॉबिन सिंह, ब्रूनो कॉटिन्हो, परिमल डे, विक्टर अमल राज, हरजिंदर सिंह, वीपी सत्यन, श्यामल बनर्जी, उत्तम राय और जैकी चंद सिंह जैसे खिलाड़ी कुछ ऐसे नाम हैं जिन्होंने अपने स्कूल के समय में सुब्रतो कप खेला है। अंतर्राष्ट्रीय दिग्गज, रिवाल्डो, रॉबर्टो कार्लोस (दोनों 2016 में) और उनमें से सबसे महान, पेले (2015) जैसे अंतर्राष्ट्रीय दिग्गजों ने भी इस टूर्नामेंट के पिछले संस्करणों में गेस्ट ऑफ ऑनर के रूप में टूर्नामेंट की शोभा बढ़ाई है। सुब्रतो कप 2022 इस साल चार अलग-अलग स्थानों में आयोजित किया जाएगा। डॉ बीआर अंबेडकर स्टेडियम (दिल्ली गेट), तेजस फुटबॉल ग्राउंड (रेस कोर्स), सुब्रतो पार्क और जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में सभी मैच खेले जाएंगे। अपने-अपने राज्यों का प्रतिनिधित्व करने वाली लगभग 85 विभिन्न स्कूल टीमें, एशिया के इस सबसे महत्वपूर्ण इंटर स्कूल प्रतियोगिता में भाग लेंगी। बांग्लादेश के एक स्कूल ने भी प्रतियोगिता में भाग लेने की पुष्टि की है।

समारोह
प्रेस कांफ्रेंस और कर्टेन रेजऱ  1 सितंबर 2022
उद्घाटन समारोह  6 सितंबर 2022
फाइनल सब-जूनियर बॉयज (अंडर-14)  15 सितंबर 2022
फाइनल जूनियर गर्ल्स (अंडर-17)  28 सितंबर 2022
समापन समारोह और फाइनल जूनियर बॉयज (अंडर-17)  13 अक्टूबर 2022
डायमंड जुबली (60वां) संस्करण के विजेता और उपविजेता

सब जूनियर बॉयज (अंडर-14)
विजेता  सैदान सेकेंडरी स्कूल, मिजोरम
उपविजेता  यूनिक मॉडल अकादमी, मणिपुर

जूनियर गर्ल्स (अंडर-17)
विजेता  बांग्लादेश क्रीडा शिक्षा प्रतिष्ठान, बांग्लादेश (बीकेएसपी)
उपविजेता- नीलमणि इंग्लिश स्कूल, मणिपुर

 जूनियर बॉयज (अंडर-17)
विजेता- होपवेल एलियास हायर सेकेंडरी स्कूल, मेघालय
उपविजेता- बांग्लादेश क्रीड़ा शिक्षा प्रोटीशटन, बांग्लादेश (बीकेएसपी)

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.