काम की खबर:- मोदी सरकार की पॉपुलर स्कीम अटल पेंशन योजना के बदल गए हैं नियम, इनकम टैक्स चुकाते हैं तो नहीं मिलेगा फायदा

Spread the love

नई दिल्ली। सरकार ने अपनी पॉपुलर स्कीम अटल पेंशन योजना के नियमों में बदलाव किया है। टैक्सपेयर्स अब इसका फायदा नहीं उठा पाएंगे। यानी अगर आप इनकम टैक्स के दायरे में आते हैं तो इस योजना का फायदा नहीं उठा सकते हैं। इससे पहले केंद्र सरकार की इस लोकप्रिय पेंशन योजना से जुड़ने के लिए ऐसी कोई शर्त लागू नहीं थी। लेकिन सरकार ने एक नोटिफिकेशन में कहा है कि एक अक्टूबर 2022 के बाद कोई भी टैक्सपेयर अटल पेंशन योजना में शामिल होने का पात्र नहीं होगा। अगर कोई सब्सक्राइबर इस तारीख को या इससे पहले टैक्सपेयर पाया जाता है तो उसका अटल पेंशन योजना का खाता बंद कर दिया जाएगा और उस दिन तक जमा उसकी पेंशन वापस कर दी जाएगी। मिनिस्ट्री ऑफ फाइनेंस के डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज ने यह नोटिफिकेशन जारी किया है।

देश में इनकम टैक्स से जुड़े कानून के मुताबिक जिन लोगों की सालाना आमदनी 2.5 लाख रुपये या उससे कम है, उन्हें आयकर नहीं देना पड़ता है। मोदी सरकार ने अटल पेंशन योजना की शुरुआत गैर-संगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को सोशल सिक्योरिटी मुहैया कराने के मकसद से की थी। पिछले वित्त वर्ष के दौरान 99 लाख से ज्यादा नए अटल पेंशन योजना अकाउंट्स खोले गए थे। इन्हें मिलाकर इस स्कीम में सब्सक्राइब करने वाले लोगों की कुल संख्या मार्च 2022 के अंत तक 4.01 करोड़ हो चुकी थी।

कब हुई थी शुरुआत

अटल पेंशन योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (च्तपउम डपदपेजमत छंतमदकतं डवकप) ने एक जून 2015 की थी। इस योजना के तहत लाभार्थियों की 60 वर्ष की आयु होने के बाद 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये तक की धनराशि पेंशन के रूप में प्रतिमाह दी जाएगी। इसमें पेंशन की राशि बेनिफिशियरी द्वारा जमा किए गए निवेश तथा उम्र के हिसाब से तय की जाती है। अटल पेंशन योजना का लाभ कोई भी भारतीय व्यक्ति उठा सकता है। लेकिन उनकी आयु को लेकर सरकार ने न्यूनतम और उच्चतम सीमा तय की है। अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के वाले व्यक्ति की उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। 40 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं। इसी तरह 18 साल से कम उम्र के व्यक्ति का इसमें रजिस्ट्रेशन नहीं हो सकता है।

अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास एक बैंक खाता (ठंदा ।बबवनदज) होना चाहिए। यह बैंक खाता आपके आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए। जब आप अटल पेंशन योजना के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करेंगे तो आपको अपना आधार नंबर देना होगा। आधार नंबर के साथ ही आपको अपने बैंक अकाउंट का डिटेल भी देना होगा, ताकि हर महीने इसका प्रीमियम अपने आप आपके खाते से कट जाए। इसके साथ ही आपके पास एक मोबाइल नंबर होना चाहिए। आपका एक पहचान पत्र भी हो ताकि आपके पते की पुष्टि हो सके।

अटल पेंशन योजना के लिए आपको बहुत कम प्रीमियम देना होगा। यदि आप 18 साल के हैं और हर महीने 1,000 रुपये का पेंशन लेना चाहते हैं तो इसमें हर महीने महज 42 रुपए ही जमा कराने होंगे। यदि पेंशन 5,000 रुपये महीने लेना है तो प्रति माह 210 रुपए प्रीमियम जमा कराना होगा। यदि राशि उम्र के साथ बढ़ती जाएगी। प्रीमियम की विस्तृत जानकारी उपरोक्त चार्ट से ली जा सकती है

अटल पेंशन योजना के लाभार्थियों को न्यूनतम 1,000 रुपए से लेकर अधिकतम 5,000 रुपए तक की पेंशन मिलेगी। ये पेंशन 60 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद से आपको हर महीने आजीवन मिलती रहेगी। इसमें लाभार्थी की मृत्यु के बाद उनके जीवनसाथी को हर महीने पेंशन की पूरी राशि मिलती रहेगी। पति-पत्नी दोनों की मृत्यु के बाद बच्चों को अटल पेंशन योजना का सारा कॉर्पस सौंप दिया जाएगा।

कैसे मिलेगा फायदा
अटल पेंशन योजना का आवेदन करना बहुत ही आसान है। आपका खाता जिस बैंक में है वहां जाकर आपक अटल पेंशन योजना का फॉर्म ले लीजिए। फार्म को साफ-सुथरा भरकर उसे बैंक में जमा कर दीजिए। बैंक में फॉर्म जमा होने के बाद आपका अटल पेंशन योजना का खाता शुरु हो जाएगा। इसका प्रीमियम अपने आप हर महीने या वार्षिक जैसे भी आप चाहें वह कटता रहेगा। 60 वर्ष की आयु होते ही आपको पेंशन का लाभ मिलना शुरु हो जाएगा।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.