दुखद: नहीं रहे मशहूर गायक भूपिंदर सिंह, 82 साल की उम्र में बीमारी से हुआ निधन

दुखद: नहीं रहे मशहूर गायक भूपिंदर सिंह, 82 साल की उम्र में बीमारी से हुआ निधन
Spread the love

 

मुंबई।  भारतीय संगीत की सुरीली दुनिया और  संगीत के शौकीनों के लिए  एक  दुखद  खबर आयी है।  ‘नाम गुम जाएगा’, ‘दिल ढूंढता है’, ‘एक अकेला इस शहर में’..और ‘किसी नज़र को तेरा इंतजार आज भी है..’ जैसे गीतों को अपनी संजीदगी भरी आवाज़ की सुरीली मिठास से लोकप्रियता के शिखर तक पहुंचाने वाले मशहूर गज़ल गायक भूपिंदर सिंह का सोमवार को मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया। वे लंबे समय से संदिग्ध पेट के कैंसर और कोविड​​-19 से संबंधित समस्याओं से जूझ रहे थे। उनकी पत्नी मिताली सिंह ने यह जानकारी दी। दिवंगत सिंह वे 82 वर्ष के थे।

गौरतलब है कि दिवंगत भूपिंदर सिंह ने पांच दशक के लंबे करियर में गैर फिल्मी गीतों और ग़ज़लों के अलावा ‘दुनिया छूटे यार न छूटे’ (धर्म कांटा), ‘थोड़ी सी जमीन थोड़ा आसमान’ (सितारा), ‘दिल ढूंढता है’ (मौसम), ‘किसी नज़र को तेरा इंतजार आज भी है (ऐतबार) और ‘नाम गुम जाएगा’ (किनारा) जैसे कई प्रसिद्ध गीत दिवंगत गायिका लता मंगेशकर और आशा भोंसले के साथ गाये थे। प्रसिद्ध गायिका मिताली सिंह के अनुसार उनके पति को मूत्र में संक्रमण के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां जांच के दौरान वे कोविड-19 से संक्रमित पाए गए।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने प्रसिद्ध गायक के निधन पर दुख व्यक्त किया और कहा, ‘भूपिंदर सिंह के निधन से हमने एक ऐसा कलाकार खो दिया है, जिनकी आवाज़ ने कई ग़ज़लों को अमर और अविस्मरणीय बना दिया। उनके गीत दर्शकों के मन में गूंजते रहेंगे।’

Parvatanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published.