एक्शन: आपूर्ति विभाग की बड़ी कार्रवाई, 4 सस्ता गल्ला दुकानें निरस्त, 13 की जमानत जब्त

एक्शन: आपूर्ति विभाग की बड़ी कार्रवाई, 4 सस्ता गल्ला दुकानें निरस्त, 13 की जमानत जब्त
Spread the love

 

कोटद्वार। अनियमितताओं के चलते  खाद्य पूर्ति विभाग ने कोटद्वार डिपो से संबद्ध 4 फेयर प्राइस शॉप के  लाइसेंस निरस्त कर दिये हैं। साथ ही 13 दुकानों की जमानत भी जब्त कर ली है।
पौड़ी के खाद्य पूर्ति अधिकारी ने कोटद्वार डिपो से संबद्ध 4 एफपीएस (फेयर प्राइस शॉप) की लापरवाई व अनियमितताओं के चलते दुकानों के लाइसेंस निरस्त कर दिये हैं। साथ ही अनियमितताओं के चलते 13 दुकानों की जमानत भी जब्त कर ली गई  है। यह सभी मामले कोटद्वार डिपो से संबंधित हैं। डिपो से सम्बद्ध ये 4 एफपीएस ऐसे थे जिन्होंने अभी तक ऑनलाइन ट्रांजेक्शन नहीं किये हैं तथा उनके द्वारा अपने कोटे के राशन का ऑफलाइन ही वितरण किया गया। यही नहीं विभागीय बैठकों से कन्नी काटने तथा एफपीएस के कार्यों में उदासीनता बरतने को लेकर उन पर यह कार्रवाई की गई है। विभाग ने इनसे सम्बद्ध राशनकार्डों को अन्य नजदीकी एफपीएस से सम्बद्ध कर दिया है।
जिला पूर्ति अधिकारी केएस कोहली ने बताया कि भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत वितरित होने वाले फ्री राशन को शत प्रतिशत बॉयोमेट्रिक फिंगरप्रिंट से ही कार्ड धारकों को वितरण किये जाने के निर्देश हैं। किंतु कुछ ग्रेन डीलरों के द्वारा जानबूझकर कार्ड धारकों को फिंगरप्रिंट के माध्यम से राशन का वितरण न किये जाने संबंधी लापरवाही बरती जा रही है। यही नहीं विभाग द्वारा एफपीएस की समस्याओं के समाधान को लेकर कई बार बैठकें भी रखी गईं, लेकिन ग्रेन डीलर बैठकों से कन्नी काट रहे हैं। वे ऑफलाइन ही राशन का वितरण कर रहे हैं, जबकि शासन द्वारा प्रतिदिन इसकी समीक्षा की जा रही है। खाद्य पूर्ति अधिकारी ने कहा कि ऐसी लापरवाई बरतने वाले 13 अन्य एफपीएस की सम्पूर्ण जमानत की धनराशि शासन के पक्ष में जब्त करते हुए उन्हें नोटिस जारी किए गये हैं।

Parvatanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published.