एम्स: फ्लोरेंस नाइटिंगेल की याद में दीप प्रज्ज्वलन समारोह का आयोजन

एम्स: फ्लोरेंस नाइटिंगेल की याद में दीप प्रज्ज्वलन समारोह का आयोजन
Spread the love

 

ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश में बीएससी नर्सिंग बैच-2021 के दीप प्रज्ज्वलन समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर एम्स निदेशक प्रोफेसर (डॉ.) अरविंद राजवंशी ने कॉलेज ऑफ नर्सिंग में बीएससी नर्सिंग बैच-2021 के दीप प्रज्ज्वलन प्रोग्राम का विधिवत शुभारंभ किया।
आयोजित समारोह के अवसर पर निदेशक एम्स प्रो. राजवंशी ने नर्सिंग छात्राओं को बताया कि यह दिवस पहली नर्स “लेडी विद लैंप” फ्लोरेंस नाइटिंगेल की याद में मनाया जाता है। निदेशक ने बताया कि घायल सोल्जर के ट्रिटमेंट में उनके द्वारा दिए गए अविश्मरणीय सहयोग के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा।

संस्थान के संकायाध्यक्ष (अकादमिक) प्रोफेसर मनोज गुप्ता ने नर्सिंग स्टूडेंट्स को जीवन में सफलता के लिए पांच बातों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया I उन्होंने बताया कि स्टूडेंट्स ज्ञान, सहानुभूति, करुणा, जुनून और कौशल इन पांच बातों को ध्यान में रख कर भविष्य में कुशल प्रोफेशनल्स बन सकते हैं I

समारोह में मुख्य अतिथि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली की कॉलेज ऑफ नर्सिंग प्राचार्य प्रोफेसर लता वेंकटसन ने कहा कि नर्सिंग बहुत ही नोबल प्रोफेशन हैI साथ ही उन्होंने फ्लोरेंस नाइटिंगेल के जीवन पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि वह हमारे मॉडर्न नर्सिंग की फाउंडर हैं, क्योंकि उनसे पहले नर्सिंग शिक्षा का कोई प्रोफेशनल कोर्स नहीं था। उनके बाद ही नर्सिंग प्रोफेशन में यूजी, पीजी, पीएचडी और विशिष्ट नर्स के कोर्स शुरू हुए हैं।
उन्होंने बताया कि नर्सेस मरीज की व्यक्तिगत, पारिवारिक  और सामाजिकता से देखभाल करती  हैं। एम्स ऋषिकेश की कॉलेज ऑफ नर्सिंग की प्राचार्य डा.स्मृति अरोड़ा ने नर्सिंग विद्यार्थियों को इस प्रोफेशन को चुनने की शुभकामनाएं दी, साथ ही उन्होंने छात्राओं को एथिक्स के साथ नर्सिंग प्रोफेशन में काम करने की सलाह दी I
इस अवसर पर संस्थान की डीन एग्जामिनेशन प्रो. जया चतुर्वेदी, नर्सिंग सुपरिटेंडेंट कैप्टन कल्पना बेनीवाल, नर्सिंग फैकल्टी सुश्री राखी मिश्रा, इंग्लिश लैंग्वेज फैकल्टी श्रीकांता शर्मा सहित कॉलेज ऑफ नर्सिंग के सभी फैकल्टी सदस्य, नर्सिंग ट्यूटर्स मौजूद थे।

Parvatanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published.