Home अपराध अपराध: दून में दबंगों के हौसले बुलंद,गरीब के घर का सामान फैका,नाबालिग...

अपराध: दून में दबंगों के हौसले बुलंद,गरीब के घर का सामान फैका,नाबालिग से छेड़छाड़

44
0

संवाददाता

देहरादून, 06 अप्रैल। राजधानी दून में भू-माफियाओं के हौसले बुलंद हैं। इसकी बानगी तब देखने को मिली जब थाना वसंत विहार क्षेत्र के अंतर्गत बनियां वाला इलाके में भू-माफियाओं ने 15 से 20 युवकों के साथ मिलकर दबंगई दिखाते हुए एक गरीब परिवार का जबरदस्ती घर खाली कराकर सामान बाहर फेंक दिया। इतना ही नहीं, आरोप ये भी है कि दबंगों ने घटना के दौरान घर पर अकेली नाबालिग बच्ची के साथ भी छेड़छाड़ की। नाबालिग के छेड़छाड़ का विरोध करने पर उसके साथ मारपीट भी की गई। परिजनों ने घटना की पूरी जानकारी थाना वसंत विहार में दी। लेकिन आरोप है कि थाना पुलिस ने भी भू-माफियाओं का साथ देते हुए आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं की. इस पूरे प्रकरण के मीडिया में आने के बाद देहरादून एसएसपी ने थाना वसंत विहार प्रभारी को फटकार लगाते हुए मुकदमा दर्ज कर पूरे मामले की जांच के आदेश दिए। पीड़ित परिवार का कहना है कि 3 अप्रैल 2021 को स्थानीय भू-माफिया मान सिंह नाम का शख्स एक पुराने लेन-देन के विवाद को लेकर 15-20 दबंगों के साथ उनके घर आया। देखते ही देखते साथ आए लोगों द्वारा घर में रखा सारा सामान बाहर फेंकना शुरू कर दिया। इस दौरान घर पर अकेली नाबालिग बच्ची ने इसका विरोध किया तो दबंगों ने न सिर्फ उसके साथ छेड़छाड़ की, बल्कि मारपीट भी की। इस दौरान बच्ची के चिलाने पर आसपास के लोग और खेत में काम कर रही मां और बहन मौके पर पहुंचे। पीड़ित परिवार का कहना है कि इस घटना के बाद उनकी नाबालिग बच्ची डर गई है। पीड़ित बच्ची की मां का यह भी आरोप है कि आरोपी मान सिंह लंबे समय से उनके परिवार से बंधुआ मजदूरों की तरह शोषण कर रहा है। इसी के विरोध के चलते आरोपी उसके ग्राम सभा की जमीन पर बने घर को जबरन खाली कराना चाहता है। फिलहाल इस पूरे प्रकरण की विस्तृत जांच के आदेश एसएसपी देहरादून ने दे दिए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने वसंत विहार थाना प्रभारी को फटकार लगाते हुए तत्काल पीड़ित परिवार की तहरीर और मेडिकल रिपोर्ट पर संज्ञान लेकर मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं। वहीं एसएसपी ने आरोप के मुताबिक स्थानीय भू-माफिया के खिलाफ विस्तृत जांच कर इस पूरे प्रकरण पर आगे की कार्रवाई करने के निर्देश भी थाना पुलिस को दिए हैं।