Home उत्तराखंड ​आवाज़: समाजसेवी डॉ राजे सिंह नेगी ने उठाई उपनल कर्मियों की बहाली...

​आवाज़: समाजसेवी डॉ राजे सिंह नेगी ने उठाई उपनल कर्मियों की बहाली की मांग

98
0

सत्येंद्र सिंह चौहान

ऋषिकेश, 22 नवंबर। अंतरराष्ट्रीय गढ़वाल महासभा ने प्रदेश सरकार से नौकरी से निकाले गये उपनल कर्मियों की बहाली की मांग की है।
महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ राजे सिंह नेगी ने कहा कि रोजगार के नये साधन सृजित करने के बजाए उत्तराखंड सरकार लोगों को रोजगार से वंचित करने में लगी हुई है। विभागों से हटाए जाने और अन्य को उपनल के माध्यम से नियुक्ति देने के सरकार के निर्णय का उन्होंने विरोध किया है। उन्होंने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए आंदोलन की चेतावनी दी है। साथ ही नौकरी से निकाले गए सभी उपनल कर्मचारियों को वापस नौकरी पर बहाल करने की मांग सरकार से की है। नेगी ने कहा कि, यह तय किया जाए कि कार्यरत कर्मचारियों को भविष्य में किसी भी दशा में बाहर नहीं निकाला जाएगा।
रविवार को यहां जारी एक बयान में डॉ नेगी ने कहा कि एक ओर सरकार नई नौकरियां देने की बात समाचार पत्रों में प्रकाशित कर जनता को भ्रमित कर रही है। दूसरी ओर पहले से कार्यरत कर्मचारियों की लगातार छंटनी की जा रही है। उन्होंने कहा कि विगत 10 अगस्त को उपनल कर्मियों की बहाली के लिए आदेश दिए गए थे, लेकिन इसके बावजूद उपनलकर्मियों की बहाली का मामला सरकार ने अधर में लटका रखा है। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि जिन कर्मचारियों की कोरोना काल में छंटनी की गयी है या हटाया गया है, उन्हें तत्काल सेवाओं में वापस लिया जाए। ऐसा न होने पर महासभा को मजबूरन आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा।