Home उत्तराखंड ​बीकेटीसी:   नियुक्तियों को लेकर विरोध तेज, निरस्त कराने को मुख्यमंत्री को भेजा...

​बीकेटीसी:   नियुक्तियों को लेकर विरोध तेज, निरस्त कराने को मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

181
0
शम्भू प्रसाद
ऊखीमठ( रुद्रप्रयाग)- केदार घाटी और पंच गाई के लोगों  में पिछले दिनों श्री बद्रीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति में नियुक्तियों में हुई धांधली को लेकर बहुत आक्रोश है। उन्होंने  इन नियुक्तियों को निरस्त करने की मांग को लेकर उपजिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को ज्ञापन भेजा।   बता दें कि पूर्व में श्री बद्रीनाथ, केदारनाथ मंदिर समिति अध्यक्ष पर समिति में नियुक्तियों में धांधली का आरोप लगा था। केदारघाटी और पंच गाई ऊखीमठ की जनता  का कहना है कि  बद्रीनाथ केदारनाथ मन्दिर समिति में परिवारवाद  के आधार पर नियुक्तियां दी गई थीं। उसके खिलाफ पंच गाई और केदारघाटी की जनता ने भारी आक्रोश व्यक्त करते हुए  बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष और सदस्यों को घेरे में लिया  और सरकार से मांग की इन सभी पदों को निरस्त किया जाय।
हमेशा समिति के द्वारा अवगत किया जाता रहा है कि रोजगार में स्थानीय लोगों को  वरीयता दी जाएगी लेकिन जिस प्रकार से स्थानीय लोगों की अनदेखी की गई है उसे लेकर स्थानीय जनता में भारी आक्रोश है और जांच की मांग की जा रही है। केदारघाटी की जनता ने अवगत कराते हुए कहा कि समय पर कार्यवाही नहीं हुई तो पंच गाई और केदारघाटी की जनता आंदोलन के लिये बाध्य होगी।
ज्ञापन देने वालों  में व्यापार संघ अध्यक्ष आनंद सिंह रावत,  गोरिल्ला संगठन की अध्यक्ष बसन्ती रावत, प्रधान दैडा योगेंद्र नेगी, प्रधान पठाली गुुुुड्डी देवी, क्रांति वीर अध्यक्ष पवन राणा, सामाजिक कार्यकर्ता डॉ कैलाश पुष्पांण,  मनीष कुँवर, सन्दीप बर्त्वाल, त्रिभुवन रावत, देवेन्द्र प्रसाद, ,प्रहलाद सिंह राणा पूर्व सभासद रणजीत रावत मोहन प्रसाद बज्वाल सहित कई लोग मौजूद थे।