Home अपराध अपराध:सरकारी नौकरी के नाम पर लाखों हड़पने वाले 2 शातिर दबोचे

अपराध:सरकारी नौकरी के नाम पर लाखों हड़पने वाले 2 शातिर दबोचे

45
0

संवाददाता

देहरादून, 4 जनवरी।

सचिवालय में खुद को समीक्षा अधिकारी सरकारी नौकरी का झांसा देने के मामले में उत्तरकाशी पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इन आरोपियों पर कई युवाओं से नौकरी के नाम पर करीब 28 लाख से अधिक रकम हड़पने का आरोप है। उत्तरकाशी पुलिस ने बताया कि विजय नगर ज्ञानसू निवासी बृजेश कुमार ने 29 दिसंबर को इस संबंध में उत्तरकाशी कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आरोप है कि कुछ लोगों ने वर्ष 2019 में उत्तराखंड सचिवालय और केंद्रीय सचिवालय में समीक्षा अधिकारी के पद पर फर्जी प्रपत्र को दिखाकर सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा दिया। इसकी एवज में नौ लाख रुपये हड़प लिए।
इस आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी को टीम गठित की। गत शाम तीन जनवरी को यतीन्द्र देव पुत्र स्व नरदेव कुमार निवासी ऑफिसर कॉलोनी, दिल्ली रोड,सहारनपुर उत्तर प्रदेश हाल निवासी गंगोत्री विहार निकट अमन विहार देहरादून और रवि कुमार पुत्र रतन पाल सिंह निवासी ग्राम हरचन्द पुर, पोस्ट ताल बेबियाना थाना बेबियाना तहसील जहिराबाद जिला बुलन्दशहर उत्तर प्रदेश को देहरादून में आईटी पार्क टर्नर रोड जाने वाली सड़क क्रासिंग के पास से गिरफ्तार कर लिया गया।
इनकी मारुति सियाज कार, एक लैपटॉप, एक पासपोर्ट, दो आधार कार्ड, छह फोटो, सिमकार्ड, तीन बैंक चेक, तीन स्टांप आदि भी बरामद किए गए। पूछताछ में उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने गढ़वाल क्षेत्र के जनपदों में पौड़ी, टिहरी, उत्तरकाशी एवं देहरादून आदि में युवाओं को उत्तराखंड सचिवालय/केंद्रीय सचिवालय आदि जगहों में सरकारी नौकरी का झांसा देकर कूटरचित दस्तावेजों के माध्यम से नियुक्ति पत्र आदि दे दिए थे। अब तक वे करीब 28 लाख रुपये की ठगी कर चुके हैं। पुलिस के मुताबिक इस मामले में अन्य आरोपियों की भी तलाश की जा रही है। आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को उत्तरकाशी एसपी ने ढाई हजार रुपये के इनाम की घोषणा की है।