Home उत्तराखंड आस्था:  शिवरात्रि के दिन तय होगा कि श्री केदारनाथ धाम के कपाट...

आस्था:  शिवरात्रि के दिन तय होगा कि श्री केदारनाथ धाम के कपाट कब खोले जाएंगे

63
0
दिलवर सिंह बिष्ट
 रुद्रप्रयाग-  बाबा  श्रीकेदारनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि 21 फरवरी को शिवरात्रि के अवसर पर तय की जायेगी।
पंचकेदार शीतकालीन गद्दी स्थल श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ में श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति द्वारा आयोजित धार्मिक समारोह में कपाट खुलने की तिथि तय करने हेतु प्रात: 9 बजे से कार्यक्रम शुरू हो जायेगा।

श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति की ओर से उखीमठ स्थित पंचकेदार शीतकालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ में प्रात: नौ बजे से धार्मिक समारोह आयोजित किया जाएगा।जिसमें मंदिर समिति पदाधिकारियों धर्माचार्यों की उपस्थिति में कपाट खुलने की तिथि की घोषणा की जायेगी। इसी दिन श्री केदारनाथ जी की पंचमुखी डोली के केदारनाथ धाम प्रस्थान का कार्यक्रम भी तय हो जायेगा।
कपाट खुलने की तिथि तय करने के बाद भगवान श्री ओंकारेश्वर मंदिर में नित्य प्रति अभिषेक एवं विशेष पूजा अर्चना के पश्चात कपाट खुलने की तिथि निर्धारण हेतु समारोह शुरू हो जायेगा। समारोह में रावल भीमाशंकर लिंग, मंदिर समिति अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल सहित समिति पदाधिकारियों, धर्माचार्यों, हक हकूकधारियों, पंचगाई, वैदिक ब्राह्मण खोली के आचार्यगण एवं श्रद्धालुगण शामिल रहेंगे। इस दौरान हवन-यज्ञ सहित भजन-कीर्तन,स्कूली बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं भंडारा आयोजित किया जायेगा।
इस अवसर पर रावल भीमाशंकर लिंग सहित श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल, उपाध्यक्ष अशोक खत्री, सदस्य अरूण मैठाणी, मंदिर समिति मुख्य कार्याधिकारी बी.डी.सिंह, अधिशासी अभियंता अनिल ध्यानी, विशेष कार्याधिकारी जन संपर्क ए.एस.नेगी, कार्याधिकारी एन.पी.जमलोकी, सहायक अभियंता गिरीश देवली, लेखाकार आरसी तिवारी, धर्माचार्य औंकार शुक्ला, वेदपाठी विश्वमोहन जमलोकी एवं स्वयंबर सेमवाल, आचार्य हर्ष जमलोकी, पुजारी शिवशंकर लिंग,‌डा.हर्ष वर्धन बेंजवाल, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी राजकुमार नौटियाल, वैयक्तिक सहायक प्रमोद नौटियाल, प्रशासनिक अधिकारी यदुवीर पुष्पवान, प्रबंधक प्रदीप सेमवाल, मनीष तिवारी, प्रेम सिंह रावत आदि मौजूद रहेंगे।
उल्लेखनीय है कि श्री बदरीनाथ धाम के कपाट इस यात्रा वर्ष 30 अप्रैल को खुल रहे है जबकि श्री गंगोत्री एवं यमुनोत्री धाम के कपाट परंपरागत रुप से अक्षय तृतीया को खुलते है। इस वर्ष अक्षय तृतीया 26 अप्रैल को है। अक्षय तृतीया से चारधाम यात्रा की शुरुआत भी हो जाती है।