Home उत्तराखंड ​शिकंजा: हत्या का आरोपी लूटी गई तीन लाख रुपए की नगदी के...

​शिकंजा: हत्या का आरोपी लूटी गई तीन लाख रुपए की नगदी के साथ गिरफ्तार, मोटरसाइकिल व उस्तरा भी बरामद 

212
0
एसएसपी ने थपथपाई खुलासा करने वाली टीम की पीठ
संवाददाता

रुड़की- सोमवार को खानपुर थाना क्षेत्र के रहीमपुर गांव निवासी नाई की हत्या का पुलिस ने खुलासा करते कर दिया है। आरोपी युवक की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त की गई मोटरसाइकिल एवं उस्तरा भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। वहीं, युवक से लूटी गई 3 लाख रुपए की नगदी भी बरामद कर ली गई है। एसएसपी ने मामले का खुलासा करने वाली पुलिस टीम की पीठ थपथपाई है। एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्ण राज एस ने बताया कि खानपुर क्षेत्र के रहीमपुर निवासी दानिश, उम्र 19 वर्ष, पुत्र- गुलफाम 3 अगस्त को रक्षाबंधन वाले दिन घर से 3 लाख रुपए लक्सर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में जमा कराने के लिए जा रहा था।  बैंक में रुपए जमा करने की जानकारी उसने पड़ोस के रहने वाले नासिर अंसारी पुत्र कल्लू, जो गोवर्धनपुर में वेल्डिंग का काम करता है, उसको दी थी। नासिर अंसारी ने कहा कि आज मेरे पास समय है तो पैसों को लक्सर में जमा करा देते हैं। दानिश बैंक में पैसे जमा कराने के लिए घर से लेकर आ गया। दोनों गांव से एक साथ मोटरसाइकिल पर सवार होकर बैंक में पैसे जमा कराने के लिए चल दिए दिए। मोटरसाइकिल को दानिश चला रहा था।

मौका देखते ही नासिर ने दानिश की गर्दन पर उस्तरे से वार कर दिया। उस्तरा लगते ही दानिश की गर्दन कट गई और वह बाइक से नीचे गिर गया। किसी तरह घायल दानिश को नासिर जंगल में छुपाने की नियत से ले जाने लगा। इसी दौरान सड़क से गुजर रहे मिर्जापुर निवासी प्रदीप पुत्र रणवीर सिंह ने देख लिया। उसने शोर मचाते हुए दानिश को बचाने का प्रयास किया लेकिन हमलावर नासिर ने प्रदीप को भी नहीं बख्शा। उस पर भी ताबड़तोड़ उस्तरे से उस पर हमला बोल दिया, जिससे प्रदीप गंभीर रूप से घायल हो गया। लोगों को एकत्र होता देख हमलावर मौके से मोटरसाइकिल लेकर फरार हो गया था। घायल प्रदीप को सरकारी अस्पताल लाया गया ।जहां से चिकित्सकों ने गंभीर हालत होने की वजह से उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया था । एसएसपी ने बताया कि नासिर अहमद निवासी अब्दुल रहीमपुर को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसने ही दानिश को एक जमीन दिखाई थी, जिसका सौदा कर आया था। इसके लिए ही यह रुपए निकाले गए थे लेकिन बाद में सौदा कैंसिल हो गया था। इसके बाद दानिश सोमवार को रुपए जमा कराने के लिए बैंक जा रहा था। वह योजनाबद्ध तरीके से उसके साथ हो गया था। मौका पाकर उसने उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी का चालान कर दिया है।