Home उत्तराखंड ​आतंक: पहाड़ों में गुलदार की बढ़ती धमक, दहशत के साए में जी...

​आतंक: पहाड़ों में गुलदार की बढ़ती धमक, दहशत के साए में जी रहे हैं लोग

160
0
दिलबर सिंह बिष्ट
कोटद्वार-  गढ़वाल जनपद के अंतर्गत पोखड़ा ब्लॉक के घंडियाल मल्ला गांव में 16 वर्षीय बालिका को गुलदार ( तेंदुआ) द्वारा हमला कर घायल कर देने की खबर है। बालिका अपनी बुवा के घर आयी हुई थी। घटना शुक्रवार की रात को घटी। जानकारी के अनुसार, रात करीब 9:30 बालिका सभी लोगों के साथ बाहर आंगन में बैठी हुई थी। तभी अचानक गुलदार आ धमका। पहले से ही घात लगाकर बैठा गुलदार आंगन में घुस आया और बालिका को अपना शिकार बनाने की नीयत से उस पर झपट पड़ा। इतने में परिवार वालों ने शोर मचा दिया जिससे बालिका गुलदार  के चंगुल से छूट गई। इस दौरान वह  घायल हो गई । बालिका की किस्मत अच्छी रही कि वह सड़क की तरफ ना गिरकर आंगन की तरफ गिरी।
बालिका को तुरंत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पोखड़ा ले जाया गया, जहां उपचार के बाद बच्ची घर पहुंच गई है। ग्रामीणों के अनुसार, उस क्षेत्र में एक मादा  गुलदार अपने  दो बच्चों के साथ काफी दिनों से घूम रही है। इसकी लिखित सूचना वन विभाग को पूर्व में ही दे गई थी। वन विभाग की लापरवाही के कारण यह हादसा हो गया। ग्रामीणों का कहना है कि अगर सूचना मिलते ही उसको पिंजरे में पकड़ लिया जाता तो यह घटना नहीं घटती।
उत्तराखंड में सबसे बड़ी समस्या यही है कि जब जानवर किसी इंसान को खा जाए या घायल कर दे, उसके बाद ही उसे लेकर कोई कार्यवाही शुरू की जाती है।