Home उत्तराखंड ​आपदा: पहाड़ों में अतिवृष्टि का कह़र जारी, रिहायशी मकान  ढहने से महिला...

​आपदा: पहाड़ों में अतिवृष्टि का कह़र जारी, रिहायशी मकान  ढहने से महिला की मौत, दो लोग लापता

109
0
संवाददाता
 पिथौरागढ़- उत्तराखंड में हो रही भारी बारिश का कहर थमने का नाम नहीं ले रही है। खासतौर पर, पहाड़ों में उसका विकराल रूप जनजीवन पर भारी पड़ रहा है। जनपद की बंगापानी तहसील में रविवार रात को हुई भारी बारिश फिर तबाही लेकर आई। देर रात को हुई तेज बारिश में धामी गांव में दो  घर ढह गए। हादसे में घर के दो लोग और मवेशी मलबे में दबे बताए जा रहे हैं। उधर, मुनस्यारी तहसील के गूटी गांव में मकान में बोल्डर गिरने से एक महिला की मौत की सूचना है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, तहसील बंगापानी के धामी गांव के भ्यौला तोक में रविवार रात की इस घटना का पता नहीं चला। सोमवार सुबह जब ग्रामीण जागे तो तब जाकर तबाही का खौफनाक मंजर दिखा। वहां मकान का नामो निशान मिट गया था। मकान में रह रहे दो लोगों सहित पालतू मवेशी लापता हैं। ग्रामीणों के अनुसार लापता व्यक्तियों में विशना देवी 55 वर्ष पत्नी हयात सिंह व जवाहर सिंह 30 वर्ष हैं। गूटी गांव में मकान पर बोल्डर गिरने से मृतका महिला की शिनाख्त जानकी देवी 37 वर्ष पत्नी भूपालसिंह के रूप में हुई है। जिलाधिकारी डॉ विजय कुमार जोगदण्डे ने तत्काल राहत एवं बचाव कार्य के निर्देश दिए हैं।
गौरतलब है कि पिछले रविवार की रात को भी भारी बारिश के कारण बंगापानी तहसील के गैला और टांगा गांव में तबाही हुई थी। जिसमें गैला गांव में तीन लोगों की मौत हो गई थी तो पांच घायल हो गए थे, जबकि टांगा में 11 लोग मलबे में दब गए थे। उनमें से नौ मृतकों के शव मलबे से बरामद कर लिये गये हैं। दो का अभी पता नहीं चल पाया है।