Home Home शिकंजा: सरकारी नौकरी लगाने के नाम पर ठग लिए दो लाख रुपए, ...

शिकंजा: सरकारी नौकरी लगाने के नाम पर ठग लिए दो लाख रुपए,  एक आरोपी गिरफ्तार महिला आरोपी फरार

220
0

संवाददाता

 देहरादून- उत्तराखंड में सरकारी नौकरी लगाने के नाम पर लाखों की ठगी करने के समाचार आए दिन पढ़ने सुनने को मिलते हैं। ऐसा ही एक मामला यहां शनिवार को सामने आया है।  लोकेश कुमार निवासी विंग नंबर 2/7/3 ने प्रेमनगर थाने पर एक लिखित तहरीर देते हुए बताया कि उसकी मुलाकात  अंजू यादव, निवासी- मोहनपुर, प्रेम नगर से हुई, जो उसकी दुकान पर अक्सर सामान लेने आती थी।अंजू यादव ने  कहा कि वह उनकी सरकारी नौकरी लगवा देगी। अंजू ने बताया कि उसकी जान पहचान FRI देहरादून में नियुक्त किसी उच्च अधिकारी से है। फिर उसने  लोकेश की मुलाकात शेर सिंह  पुत्र  फग्गन सिंह, निवासी c-79 एफ आर आई, थाना- कैंट से कराई।  उसने सरकारी नौकरी लगवाने के एवज लोकेश से ₹500000 की मांग की। सरकारी नौकरी लग जाने के लालच में आकर लोकेश ने शेर सिंह  को ₹200000 नगद दे दिए।

कुछ दिन बाद जब सरकारी नौकरी नहीं लगी तो  लोकेश को एहसास हुआ कि उसके साथ धोखाधड़ी हो गई है। लोकेश द्वारा अपनी धनराशि वापस मांगने पर शेर सिंह  और अंजू यादव ने लोकेश को गाली गलौज व जान से मारने की धमकी देते हुए धनराशि वापस करने से इंकार कर दिया। इस पर लोकेश  द्वारा थाना प्रेमनगर पर तहरीर देकर शिकायत की गई। लोकेश की तहरीर पर थाना प्रेमनगर पर मु.अ.सं. 124/ 2020 धारा 420,504,506 भादवि बनाम अंजू यादव आदि पंजीकृत किया गया। मामले की तफ्तीश उप निरीक्षक प्रवीण सैनी के सुपुर्द की गई।  शनिवार को मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त शेर सिंह को गोरखपुर चौक के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। अंजू यादव अभी फरार है,  जिसकी तलाश जारी है।