Home उत्तराखंड हताशा: मानसिक तनाव से ग्रस्त युवक ने लगा ली फांसी, फिजियोथेरेपी के...

हताशा: मानसिक तनाव से ग्रस्त युवक ने लगा ली फांसी, फिजियोथेरेपी के पेशे से जुड़ा था मृतक

301
0

संवाददाता

देहरादून–  रविवार को शहर में मानसिक तनाव से ग्रस्त एक शादीशुदा युवक ने कमरे में फांसी लगा कर खुदकुशी कर ली। मृतक के पास से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें मानसिक तनाव के चलते आत्महत्या कर लेने की बात कही गई है। जानकारी के मुताबिक,  रविवार को लगभग 5:30 बजे पुलिस कंट्रोल रूम से सूचना प्राप्त हुई की पटेल रोड, नगर निगम के पास एक कमरे में एक व्यक्ति ने सुसाइड किया हैै।   सूचना पर तत्काल  प्रभारी निरीक्षक कोतवाली,वरिष्ठ उपनिरीक्षक कोतवाली और चौकी प्रभारी धारा  फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।  मौके पर जानकारी मिली कि सुधीर चमोली पुत्र पुष्पा नंद चमोली, ऋषिकेश निवासी  लगभग 4 वर्षों से उषा देवी थपलियाल के मकान पर अपने बीवी बच्चों के साथ किराए पर रहता था। वह फिजयोथेरिपी का कार्य करता था।  वर्तमान में उसकी पत्नी बच्चो के साथ मायके गयी थी।  मृतक पिछले 15 दिनों से अकेला रह रहा था। आज रविवार सुबह लगभग 5:00 बजे मकान मालकिन ने देखा कि सुधीर के कमरे के बाहर अखबार पड़ा था, मकान मालिकन ने खिड़की से देखा तो सुधीर चमोली का शव  फाँसी पर झूल रहा था। उसने तुरंत कंट्रोल रूम और परिजनों  को सूचित किया तथा 108 एम्बुलेंस को मौके पर बुलाया। कुछ समय पश्चात परिजन भी मौके पर पहुँचे। परिजनों के समक्ष मृतक के शव को उतारकर 108 एंबुलेंस के माध्यम से कोरोनेशन अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों द्वारा उसे मृत घोषित किया गया।  मौके पर सुसाइड नोट बरामद हुआ, जिसमें मृतक द्वारा मानसिक तनाव में होने के कारण सुसाइड करने की बात लिखी गई है।  किसी पर किसी प्रकार का कोई आरोप नहीं लगाया गया हैै। पुलिस ने शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।