Home उत्तराखंड ​स्मरण: सीपीएम ने 12वीं पुण्यतिथि पर कामरेड हरकिशन सुरजीत को किया याद

​स्मरण: सीपीएम ने 12वीं पुण्यतिथि पर कामरेड हरकिशन सुरजीत को किया याद

132
0
कामरेड सुरजीत ने आजीवन साम्प्रदायिक तथा विघटनकारी तत्वों के खिलाफ संघर्ष किया 
संवाददाता
देहरादून- माकर्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने पार्टी के संस्थापक पूर्व महासचिव तथा वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानी कामरेड हरकिशन सिंह सुरजीत की 12वीं पुण्यतिथि पर उन्हें भावभीनी श्रद्धान्जलि अर्पित की। कामरेड सुरजीत को श्रद्धांजलि  देने हेतु जनपद देहरादून के कारबारी, वाणी विहार, सभावाला आदि स्थानों सहित रूद्रप्रयाग, चमोली, टिहरी, हरिद्वार, अल्मोड़ा आदि जिलों में पार्टी कार्यक्रम आयोजित किये गये ।

मुख्य कार्यक्रम देेहरादूूूूूून स्थित पार्टी राज्य कार्यालय में कामरेड इन्दु नौडियाल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए सीपीएम राज्य सचिव मण्डल सदस्य व किसान सभा के राज्याध्यक्ष कामरेड सुरेन्द्र सिंह सजवाण ने कामरेड सुरजीत का आज़ादी के आन्दोलन से कम्युनिस्ट आन्दोलन के निर्माण तथा देश की राजनीति में सयुंक्त एवं धर्मनिरपेक्ष मोर्चे की स्थापना कर साम्प्रदायिक तत्वों को सत्ता से दूर रखने आदि विषय पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि कामरेड सुरजीत के महत्वपूर्ण हस्तक्षेप से उस दौरान जनता के पक्ष में बेहतरीन नीतियां बनीं। उन्होंने आजीवन मज़दूर ,किसान तथा मेहनतकश वर्ग के लिये कार्य किया। शहीदे आज़म भगतसिंह को आदर्श मानते हुए आज़ादी के आन्दोलन में कम उम्र में ही महत्वपूर्ण मुकाम हासिल किया व अनेकों बार जेल गये ।आजीवन देश की एकता – अखण्डता के लिए संघर्षरत रहते हुए साम्प्रदायिक तथा विघटनकारी तत्वों को अलग करते रहे। 

इस अवसर पर कामरेड अनन्त आकाश, लेखराज, शम्भूप्रसाद ममगाई, हिमांशु चौहान, भगवन्त पयाल, अर्जुन रावत आदि ने विचार व्यक्त किया ।
संचालन अनन्त आकाश ने किया।  इससे पूर्व कामरेड सुरजीत के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की गई।