Home उत्तराखंड सीपीएम: सरकार से परिवहन क्षेत्र की समस्या हल करने की उठाई मांग

सीपीएम: सरकार से परिवहन क्षेत्र की समस्या हल करने की उठाई मांग

105
0
देहरादून-
मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने कोविड 19 के कारण राज्य मेंं ठप्प पड़ी परिवहन व्यवस्था को अतिशीघ्र सुचारू करने की मांग राज्य सरकार से की है। पार्टी ने कहा है कि सरकार के समय पर फैसले न लेने के कारण आम जनता को आवागमन के लिये भारी धनराशि चुकानी पड़ रही है ।
शुक्रवार को पार्टी की बैठक मेंं राज्य सरकार द्वारा परिवहन क्षेत्र मेंं आपरेटरों ,चालकों ,परिचालकोंं तथा हैल्परोंं के लिये आर्थिक सहयोग की घोषणा न करने पर भी गहरी चिन्ता व्यक्त की गई है। पार्टी ने कहा है कि इस क्षेत्र से जुड़े लाखों लोग अत्यधिक कष्टकारी जीवन जीने के लिए बाध्य हैं, किन्तु सरकार उनके कष्टों की अनदेखी कर गैरजिम्मेदाराना रवैया अपना रही है। राज्य मेंं हजारों हजार बस ,नगर बस सेवा ,विक्रम ,आटो ,ई रिक्शा, टैक्सी ,मैक्सी तथा ट्रक आदि वाहन हैं जिन पर हजारों हजार लोगों की आजीविका व रोजगार चलता आया है। इस महत्वपूर्ण सैक्टर की अनदेखी अत्यधिक दुखद है। पार्टी ने कहा है कि इस सन्दर्भ माननीय मुख्यमंत्री  को अनेकों ज्ञापन दिये जा चुके हैं। पार्टी ने बैठक के माध्यम से पुनः तीन मांगेंं सरकार के समक्ष रखी हैं-
1. परिवहन सेवाओं मेंं लगे सभी वाहनों के सभी प्रकार के टैक्स माफ किये जाएं ।
2. परिवहन से जुड़े सभी आपेरेटरोंं ,चालकों ,परिचालकोंं ,हैल्परोंं को समुचित मुआवजा दिया जाए ।   
 3. सोशल डिस्टेंंशिंंग के नाम पर कम सवारियों को बिठाने के प्रावधान के चलते अतिरिक्त सवारियों का किराया सरकार भरे या फिर सामान्य  स्थिति  तक  सभी वाहनों का  अधिग्रहण कर समुचित धनराशि इस क्षेत्र मेंं लगे लोगों को दे ।
बैठट मेंं पार्टी  के राज्य सचिव राजेन्द्र सिंह नेगी, सुरेंद्र सिंह सजवाण, इन्दु नौडियाल ,राजेन्द्र पुरोहित,अनन्त आकाश ,लेखराज आदि ने विचार व्यक्त किये ।