Home उत्तराखंड हताशा: अज्ञात कारणों से छात्रा ने फांसी लगाकर जान दी, विवाहिता...

हताशा: अज्ञात कारणों से छात्रा ने फांसी लगाकर जान दी, विवाहिता ने गटक लिया ज़हर

232
0

 

संवाददाता

संवाददाता

देहरादून- शहर में गुरुवार को दो ऐसी घटनाएं सामने आईं जो जिंदगी की दुश्वारियों के आगे इंसान के हार मान लेने की बढ़ती प्रवृत्ति का संकेत देती हैं। दरअसल, दो अलग-अलग घटनाओं में दो अलग-अलग महिलाओं के जिंदगी से हार जाने की खबरें हैं। एक ने गले में फंदा डाल कर फांसी लगा ली तो दूसरी ने ज़हर गटक लिया। जानकारी के मुताबिक, कैंट थाने को सुबह कंट्रोल रूम से सूचना प्राप्त हुई कि गढ़ी कैंट क्षेत्र में एक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस सूचना पर थाना कैंट से पुलिस बल तत्काल मौके पर पहुँचा। मौके पर मृतका की पहचान माही थापा पुत्र विनोद थापा निवासी 382 गढ़ी कैंट, उम्र 14 वर्ष के रूप में हुई।मृतका के संबंध में जानकारी करने पर उसके परिजनों द्वारा बताया गया कि मृतका केंद्रीय विद्यालय बीरपुर में आठवीं की छात्रा थी। आज प्रातः उसके द्वारा अपने कमरे में फांसी लगा ली गई।  मृतका के पिता सर्वे ऑफ इंडिया में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करते हैं तथा मृतका उनकी दो पुत्रियो में से छोटी थी।  आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है। पुलिस द्वारा मौके पर शव का पंचनामा भर शव को अग्रिम कार्रवाई के लिए मोर्चरी में रखवाया गया है। दूसरा मामला राजपुर थाने का है।  कोरोनेशन अस्पताल से एक डैथ मेमो प्राप्त हुआ, जिसमें एक महिला संगीता पत्नी नरेश निवासी ग्राम शीला उम्र 26 वर्ष के जहरीला पदार्थ खाने से मृत्यु अंकित किया गया। इस सूचना पर कोरोनेशन अस्पताल आवश्यक कार्यवाही को पुलिस भेजी गई। अस्पताल में घरवालों एवं उसके पति से पूछताछ की गई तो उनके द्वारा बताया गया कि मृतका की शादी वर्ष 2013 में हुई थी। तथा उसके दो बच्चे हैं।  मृतका का पति पूर्व में रुड़की में होटल में कार्य करता था तथा लॉकडाउन के बाद से ही घर पर है। प्रथम दृष्टया घरेलू विवाद के कारण महिला द्वारा जहर खाना प्रकाश में आया है। मौके से कोई सुसाइड नोट प्राप्त नहीं हुआ है।  मृतका के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम की कार्रवाई की जा रही है।