Home उत्तराखंड राजनीति: अब उत्तराखंड से उठी हरीश रावत  को कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष...

राजनीति: अब उत्तराखंड से उठी हरीश रावत  को कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग

243
0

संवाददाता

 देहरादून- कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से सोनिया गांधी के इस्तीफा देने की चर्चा का असर उत्तराखंड में भी दिखाई देने लगा है। पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत के कुछ अतिउत्साही समर्थकों ने पार्टी हाईकमान को एक नया सुझाव दे डाला है। उन्होंने  हरीश रावत को कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की सलाह दी है। अपनी इस सलाह के पीछे समर्थकों की दलीलें भी ध्यान खींचने वाली हैं। हरदा समर्थकों का कहना है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश से हैं तो कांग्रेस का अध्यक्ष भी पहाड़ी राज्य उत्तराखंड से होना तो बनता ही है। वैसे भी अनुभव और लोकप्रियता में हरीश रावत भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष से 21 ही होंगे 20 नहीं। सोशल इंजीनियरिंग मेंं माहिर हरीश रावत भाषण देने में भी आदरणीय मोदी जी को टक्कर दे सकते हैं।

समर्थकों का कहना है कि जब हरीश रावत  मुनस्यारी व धारचूला के आपदाग्रस्त इलाकों में  ऊबड़ खाबड़ रास्तों पर मीलों पैदल चल सकते हैं, पहाड़ो में गाड़ी से जा सकते हैं तो कांग्रेस के लिए पूरे देश में भ्रमण तो कर ही सकते हैं। समर्थक याद दिलाते हैं कि कुछ वर्ष पहले वे श्री केदारनाथ धाम भी पैदल ही गये थे।

इन समर्थकों का कहना है कि हाई कमान को इस बारे में जरूर सोचना चाहिए। गांधी परिवार के अलावा अन्य कांग्रेसियों में उनके कद और अनुभव के बराबर कोई दिख भी नहीं रहा है। बाकी सब राज्यों में मुख्यमंत्री हैं या अध्यक्ष।

समर्थकों का तर्क है कि हरीश रावत के कांग्रेस के केंद्र में जाने से क्षेत्रीय दलों का रास्ता भी खुलेगा और युवा नेतृत्व का भी। समर्थकों के मुताबिक, उत्तराखंड में दी गयी सेवाओं और योगदान के लिए पहाड़वासी हरीश रावत  के  सदैैव आभारी रहेंगे।

( सोशल मीडिया में वायरल हो रही चर्चा पर आधारित )