Home उत्तराखंड नामकरण: भाबर के कलालघाटी क्षेत्र का नाम अब कण्वघाटी होगा,  शासन ने...

नामकरण: भाबर के कलालघाटी क्षेत्र का नाम अब कण्वघाटी होगा,  शासन ने जारी किया आदेश

110
0
संवाददाता
कोटद्वार, 19 दिसंबर।  जनपद पौड़ी गढ़वाल की  कोटद्वार तहसील  के भाबर क्षेत्र के लिए अच्छी खबर है। भाबर के कलालघाटी क्षेत्र का नाम अब से कण्वघाटी  होगा। उत्तराखंड शासन ने इस प्रस्ताव पर मंजूरी की मुहर लगा दी है। शासन द्वारा उत्तर प्रदेश पुनर्गठन 2000 की धारा 6 के तहत कलालघाटी का नाम बदल कर अब कण्वघाटी कर दिया गया है। मुनि कण्व ऋषि के नाम पर इस क्षेत्र का नया नामकरण किया गया है। शहरी विकास सचिव शैलेश बगौली ने इस आशय के आदेश कर दिये हैं।
गौरतलब है कि कोटद्वार से लगभग 12 किलोमीटर दूर कण्व ऋषि के नाम पर पौराणिक व ऐतिहासिक स्थल कण्वाश्रम है। पौराणिक इतिहास के अनुसार, मुनि विश्वामित्र व अप्सरा मेनका की पुत्री शकुंतला के पुत्र भरत का जन्म यहीं पर मालन नदी के किनारे स्थित आश्रम में हुआ था। हस्तिनापुर के राजा दुष्यंत और शकुंतला के बीच प्रेम का श्री गणेश इसी स्थान पर हुआ था। इस क्षेत्र को विभिन्न सरकारें पर्यटक स्थल के तौर पर विकसित करने की बात कहती रही हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि शकुंतला के पुत्र भरत के नाम पर ही इस देश का नाम भारतवर्ष पड़ा। पुरातत्व विभाग को इस इलाके से मूर्तियां व ऐतिहासिक वस्तुएं मिलने की घटनाएं भी चर्चा में आई थी।