Home उत्तराखंड आवाज: किसान अध्यादेश पर बिफरा कांग्रेस सेवादल, एसडीएम के माध्यम से राष्ट्रपति...

आवाज: किसान अध्यादेश पर बिफरा कांग्रेस सेवादल, एसडीएम के माध्यम से राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

175
0

 

बेरोजगारों को 10 हजार प्रतिमाह भत्ता देने की मांग

संवाददाता
कोटद्वार, 22 सितंबर। किसान अध्यादेश और प्रदेश में बढ़ती बेरोजगारी के विरोध में आज कांग्रेस सेवा दल के कार्यकर्ताओं ने बद्रीनाथ रोड स्थित कार्यालय पर एकत्रित होकर प्रदर्शन किया। पूर्व राज्य मंत्री जसवीर राणा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने तहसील परिसर तक रैली निकाली।

किसान अध्यादेश वापस लो, बेरोजगारों की भर्ती शीघ्र करो, बेरोजगारों को रोजगार भत्ता शीघ्र दो नारे लगाए। जसवीर राणा एवं सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष राजेश रस्तोगी के नेतृत्च में उपजिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा गया। किसान विरोधी अध्यादेश को किसान की भावनाओं के अनुरूप वापस लेने केंद्र व राज्य सरकार सरकारी पदों पर नियुक्ति शुरू करे। कोरोना काल में किसान, मजदूरों, शिक्षित बेरोजगारों को 10 हजार रुपये प्रति माह बेरोजगारी भत्ता देने की मांग की।

उन्होंने कहा कि सरकार ने देश में महंगाई बढ़ा दी है और रोजगार कम कर दिए हैं। सरकार अर्थव्यवस्था के प्रति गंभीर नहीं है। आम जनता से भाजपा ने जो वायदे किए थे, उनमें से एक भी वायदा पूरा नहीं किया गया है। इस अवसर पर पदमपुर (मोटाढाक) के  पूर्व  प्रधान एवं कांग्रेस नेता तेजपाल सिंह पटवाल समेत  दर्जनों सेवादल कार्यकर्त्ता शामिल रहे।