Home उत्तराखंड शाबाश: घायल युवकों के लिए देवदूत साबित हुए एसडीआरएफ के जवान

शाबाश: घायल युवकों के लिए देवदूत साबित हुए एसडीआरएफ के जवान

85
0
संवाददाता
जोशीमठ, 10 नवंबर। यहां एक हादसे का शिकार हुए दो युवकों के लिए उत्तराखंड पुलिस की एसडीआरएफ टीम देवदूत साबित हुई, जिसने उन्हें मौत के मुंह में जाने से बचा लिया। बाइक पर सवार दोनों युवक एक ट्रक से टकरा कर सड़क पर गिर गये थे। इससे पहले कि गंभीर रूप से घायल युवक किसी अनहोनी का शिकार बनते, मौके पर एसडीआरएफ की टीम पहुंच गयी। जानकारी के अनुसार,  बलदौडा में हुई वाहन दुर्घटना में लापता व्यक्तियों की तलाश में गयी एसडीआरएफ टीम जोशीमठ पोस्ट पर वापस आ रही थी। तभी रास्ते में मारवाड़ी- जोशीमठ के बीच एसडीआरएफ वाहन के आगे चल रहे एक ट्रक से दूसरी ओर से आ रहे 2 बाइक सवारों की सीधे टक्कर हो गयी। टक्कर होते ही  दोनों बाईक सवार गम्भीर रूप से घायल होकर सड़क पर गिर पड़े और तड़पने लगे।
यह दर्दनाक नजारा देखते ही  एसडीआरएफ की टीम तुरंत अपनी गाड़ी से उतर कर बिना देर किए दोनों घायलों के पास पहुंच गयी और रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गई। फिर घायलों को तत्काल एक प्राइवेट वाहन से ले जाकर सीएचसी जेएसएम इमरजेन्सी में दाखिल कराया। उसके बाद स्थानीय पुलिस को इसकी सूचना दी गई। घायलों की पहचान पंकज पुत्र चंडीलाल, उम्र 22 वर्ष, निवासी- पान्डुकेश्वर व अक्षित पंवार निवासी गोविन्दघाट के रूप में हुई है।