Home उत्तराखंड दुर्गति:  राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय में लटके मिले ताले,  मरीज परेशान

दुर्गति:  राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय में लटके मिले ताले,  मरीज परेशान

61
0

संवाददाता

श्यामपुर( हरिद्वार)- पूरा देश कोरोना वायरस से परेशान है, लेकिन ऐसे हालात में भी राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय श्यामपुर वीरान पड़ा है। अस्पताल में एक भी डॉक्टर व कर्मचारी तैनात नहीं है। इस संवाददाता ने वहांं का दौरा किया तो  राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय के गेट पर ताले लटके मिले और चिकित्सालय के आसपास लंबी लंबी घासें उगी हुई मिलींं। मौजूदा समय में कोरोना वायरस बहुत तेजी से बढ़ रहा है, ऐसे में राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय में डॉक्टर का होना जरूरी है। मगर डॉक्टर तो दूर की बात कोई  स्टाफ भी नजर नहीं आ रहा है। देखने को मिल रहे हैं सिर्फ ताले। चिकित्सालय के बाहर कुछ लोग मिले। उन्होंने बताया कि चिकित्सालय कभी-कभी खुलता है। कोई भी टाइम टेबल नहीं है आने का। मरीज जब भी दवाई लेने आते हैं तो गेट में ताला लगा होता है। वे निराश होकर अपने घर लौट जाते हैं। उन्होंने बताया कि दवाई लेने से पहले 2 रुपए का पर्चा बनता है, उसके बाद दवाई मिलती हैं। दवाई एक हफ्ते की होती है। दवाई से आराम भी हो जाता है, मगर एक हफ्ते बाद आते हैं तो राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय में ताले लगे मिलते हैं। लोगों ने बताया कि हमारे आस-पास के गांव में होम्योपैथिक चिकित्सालय भी नहीं बना हुआ है जो वहां से दवाई ले लेंं। जब भी दवाई लेनी होती है तो हरिद्वार जाना पड़ता है। ऐसे में मरीजों को एकमात्र भगवान के भरोसे पर ही रहना पड़ता है।