Home उत्तराखंड दहशत: एक ही ब्लॉक में लगातार तीसरी महिला को मार डाला गुलदार...

दहशत: एक ही ब्लॉक में लगातार तीसरी महिला को मार डाला गुलदार ने, ग्रामीणों में छाया खौफ़

116
0

संवाददाता
देवप्रयाग, 20 जुलाई। टिहरी जिले के हिण्डोलाखाल ब्लाक के ग्रामीण गुलदार के खौफ़ में जी रहे हैं। गुलदार ने लगातार तीसरी महिला पर हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया है। इससे पूर्व भी गुलदार हमला कर एक महिला को अपना निवाला व एक को गम्भीर रूप से घायल कर दिया था। परिजनों व स्थानीय लोगों ने शासन प्रशासन से गुलदार के हमले से मृतक हुई एवं घायल महिला के परिवार में एक एक सदस्यों को सरकारी नौकरी देने एवं वन विभाग पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार प्रातः हिण्डोलाखाल ब्लाक के दुरोगी गांव निवासी गुंदरी देवी पत्नी मदन लाल को घर के पास ही गुलदार ने हमला कर मौत के घाट उतार दिया है। विदित हो कि इससे कुछ दिनों पहले भी इसी गांव की एक महिला रीना देवी पत्नी दौलत सिंह को गुलदार ने हमला कर गम्भीर रूप से घायल कर दिया था जिसे चिकित्सकों ने इलाज के लिए हायर सेंटर रैपर कर दिया था। वहीं उसके बाद क्षेत्र की ही छाम गांव निवासी शकुंतला देवी पत्नी भगवती दास को भी गुलदार ने  मौत के घाट उतार दिया था। घटना से क्षेत्र में आतंक व भय का माहौल बना हुआ है। क्षेत्रीय सामाजिक कार्यकर्ता ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष रघुवीर सिंह भण्डारी,ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष देवप्रयाग कुन्दन सिंह बिष्ट, राम प्रसाद नौटियाल,उदय सिंह रावत आदि ने शोक व्यक्त करते हुए शासन प्रशासन से प्रभावितों को उचित मुआवजा देने की मांग की है। वहीं घटना पर गहरा दुःख व्यक्त करते हुए पूर्व शिक्षामंत्री व देवप्रयाग क्षेत्र के पूर्व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मंत्री प्रसाद नैथानी ने जिलाधिकारी टिहरी को ज्ञापन भेजकर विकासखंड देवप्रयाग के ग्राम छाम व दुरोगी में गुलदार द्वारा दुरोगी व छाम गांव में मृतक व घायल महिलाओं के  परिजनों में एक एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग करते हुए नरभक्षी बाघ को मारने के लिए शूटर भेजने एवं मृतक के परिवार को तत्काल राहत देने के लिए पत्र प्रेषित किया है। जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल को प्रेषित ज्ञापन में 
पूर्व मंत्री ने कहना है कि विकासखंड देवप्रयाग के ग्राम छाम में नरभक्षी गुलदार के कारण पूरे क्षेत्र में भय व्याप्त है ।आदमखोर बाघ द्वारा पहले महिला को घायल किया व दूसरी महिला को अपना निवाला बनाया गया है जो कि बहुत ही चिंता का विषय है। उन्होंने जिलाधिकारी को इस संदर्भ में क्षेत्र में गुलदार के आतंक को देखते हुए नरभक्षी गुलदार को शीघ्र मारने के लिए शूटर भेजने एवं मृतक के परिवार को तत्काल राहत पहुंचाने के साथ वन विभाग की गश्त बढ़ाने तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करने की बात कही है।