Home Home मौसम: पहाड़ों में बिगड़ा मौसम का मिजाज, सात मई तक भारी बारिश...

मौसम: पहाड़ों में बिगड़ा मौसम का मिजाज, सात मई तक भारी बारिश व ओलावृष्टि का अनुमान

123
0

 

संंवाददाता
देहरादून, 04 मई। उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में जोरदार बारिश हो रही है। सोमवार को उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग जिले में भारी नुकसान के बाद आज मंगलवार चार मई को चमोली जिले के घाट में बादल फटने से घाट बजार में लोगों के घरों और दुकानों में मलबा घुस गया। इसके साथ ही केदारनाथ, बदरीनाथ और हेमकुंड में बर्फबारी का दौर जारी है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले सात मई तक देहरादून, हरिद्वार, टिहरी, पौड़ी, अल्मोड़ा, नैनीताल, चंपावत, बागेश्वर, पिथौरागढ़ और ऊधमसिंह नगर में कहीं-कहीं भारी बारिश और ओलावृष्टि की आशंका है। वहीं, पर्वतीय इलाकों में आकाशीय बिजली भी गिर सकती है। इसके अलावा मैदानी इलाकों में 40 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं।
इससे पहले सोमवार को रुद्रप्रयाग जिले के नकोट में बादल फटने से कई लोगों के आवासीय भवनों में पानी घुस गया था। उत्तरकाशी जिले में भी चिन्यालीसौड़ के कुमराणा और बल्डोगी गांव में अतिवृष्टि होने से भारी नुकसान हुआ था। उत्तरकाशी में तो गोशालाएं बह गईं थीं। कई मवेशियों के मारे जाने की भी सूचना है।

दून-मसूरी में तेज हवा के साथ बारिश

देहरादून और आसपास के इलाकों में भी मौसम ने रंग बदला। काले बादलों के डेरे के बीच तेज हवाएं चलीं और कई जगह बौछारें भी गिरीं। विकासनगर में अंधड़ के कारण पेड़ और विद्युत पोल गिरने की सूचना है। मसूरी में करीब दो घंटे झमाझम बारिश से लोगों को एक बार फिर गर्मी से राहत मिली।

कुमाऊं में भी आफत मचा रही बारिश

कुमाऊं में भी बारिश आफत बनकर बरसी। अल्मोड़ा में तेज बारिश से जिला पंचायत के चौघानपाटा स्थित आवासीय परिसर की सुरक्षा दीवार ढह गई। इससे जिला पंचायत के भवन में रह रहे तीन परिवारों के 12 सदस्य करीब एक घंटे तक कमरों में कैद रहे। प्रशासन को सूचना देने के बाद पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और सबको सुरक्षित निकाला। वहीं, बागेश्वर में पहाड़ी से आए मलबे से आरे, बालीघाट, दुगनाकुरी के होराली के पास घंटों कपकोट मोटर मार्ग बंद रहा।

7 मई तक के मौसम का हाल

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक पांच मई को राज्य के देहरादून, हरिद्वार, टिहरी, नैनीताल, पौड़ी, अल्मोड़ा, चंपावत, बागेश्वर, पिथौरागढ़, उधमसिंह नगर में ओरेंज अलर्ट है। कहीं कहीं अतिवृष्टि के साथ आकाशीय बिजली चमकने की संभावना है। उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग में यलो अलर्ट जारी किया गया है। कहीं कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने और मैदानी इलाकों में तीस से चालीस किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने की भी संभावना है।
छह मई को भी इसी तरह का मौसम बना रहेगा। सात मई को राज्य के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश गर्जन के साथ हो सकती है। इस दिन के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। कहीं कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने की भी संभावना है।