Home उत्तराखंड आवाज: उद्योगों में 80 फीसदी सीटें मूल निवासियों के लिए हों आरक्षित

आवाज: उद्योगों में 80 फीसदी सीटें मूल निवासियों के लिए हों आरक्षित

100
0
संवाददाता
देहरादून, 5 नवंबर। उत्तराखंड क्रांति दल के वरिष्ठ केंद्रीय उपाध्यक्ष एडवोकेट एन के गुसाईं ने  प्रदेश सरकार से राज्य में स्थानीय उद्योगों में उत्तराखंड राज्य के मूल निवासियों हेतु 70 नहीं बल्कि 80% रोजगार मुहैया कराना सुनिश्चित कराने की मांग की है।
उन्होंने कहा कि उत्तराखंड राज्य बनने के दिन 9 नवंबर 2000 से ही स्थानीय बेरोजगारों हेतु उद्योगों में 80% सीटें आरक्षित करने हेतु उत्तराखंड क्रांति दल धरने,प्रदर्शन, ज्ञापन तथा अन्य अनेक लोकतांत्रिक माध्यमों से सरकार से गत दो दशकों से मांग करती आ रही है।
गुसाईं ने कहा कि अलग उत्तराखंड राज्य की मांग के पीछे पलायन के साथ साथ रोजगार भी एक प्रमुख कारण था। उन्होंने
कहा कि रोजगार ही वह मुख्य कारण था जिससे अलग उत्तराखंड राज्य की वर्षों पुरानी लड़ाई को वर्ष 1994 में बेरोजगारों के साथ मातृशक्ति, छात्र शक्ति व यहाँ के अभिभावकों ने अपने पाल्यों के भविष्य की खातिर ऑन्दोलन में बढ़-चढ़कर हिस्सेदारी की। उन्होंने सरकार से शीघ्र ही उत्तराखंड राज्य में यहां के मूल निवासियों हेतु स्थानीय उद्योग धन्धों में 80% नियुक्तियां आरक्षित करने की मांग की। गुसाईं ने चेतावनी दी कि यदि सरकार ने ऐसा नहीं किया तो यूूकेडी इस आंदोलन को 80फीसदी आरक्षण तक जारी रखेगा।