Home उत्तराखंड अभी अभी: नहीं रहे राज्य आंदोलनकारी बीएल सकलानी,  दिल का दौरा पड़ने...

अभी अभी: नहीं रहे राज्य आंदोलनकारी बीएल सकलानी,  दिल का दौरा पड़ने से हुआ निधन

54
0
देहरादून, 13 सितंबर।  उत्तराखंड राज्य निर्माण आंदोलन से जुड़े दस्तावेजों के संग्रहकर्ता एवं राज्य आंदोलनकारी बी एल सकलानी के आकस्मिक निधन की खबर आई है। जानकारी के मुताबिक, शनिवार की रात को उन्हें दिल का दौरा पड़ा। गौरतलब है कि अभी दो दिन पूर्व ही उन्होंने देहरादून में कचहरी स्थित शहीद स्मारक में बने मंदिर में खुद को पेट्रोल की बोतल के साथ बंद कर आत्मदाह की कोशिश की थी। बताया जा रहा है कि शनिवार की रात को दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया है। उनके निधन की खबर मिलते ही  राज्य आंदोलनकारियों में शोक की लहर छा गई। आंदोलनकारियों ने उनके निधन पर शोक जताते हुए कहा कि 15 साल से वह राज्य आंदोलन के बलिदानियों की निशानी को सुरक्षित करने के लिए स्थायी संग्रहालय बनाने की मांग कर रहे थे, सरकार अगर उनकी इस मांग को पूरा कर देगी तो यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धाजंलि होगी। उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी मंच के जिलाध्यक्ष प्रदीप कुकरेती ने बीएस सकलानी के निधन की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि शनिवार को उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद दून अस्पताल ले जाया गया। यहां रात करीब साढ़े नौ बजे उनका निधन हो गया। इस समय उनका पार्थिव शरीर मोर्चरी में है, कोरोना टेस्ट के बाद ही अंतिम संस्कार किया जाएगा। गौरतलब है कि बीते शुक्रवार को आत्मदाह की कोशिश के मामले में देर शाम को सिटी मजिस्ट्रेट ने उन्हें निजी मुचलके पर छोड़ दिया था। इसके बाद पुलिस उन्हें ओल्ड डालनवाला स्थित आवास पर छोड़ आई थी। विभिन्न राजनीतिक दलों से जुड़े नेताओं व सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सकलानी के आकस्मिक निधन पर दुःख जताया है और अपनी शोक संवेदना व्यक्त की है।