Home उत्तराखंड उपलब्धि:  गुणवत्ता के मामले में सभी 41 आयुध निर्माणियों में चौथे स्थान...

उपलब्धि:  गुणवत्ता के मामले में सभी 41 आयुध निर्माणियों में चौथे स्थान पर ओएफ दून

77
0
संवाददाता
देहरादून, 3 नवंबर। यहां स्थित  आयुध निर्माणी में सोमवार को गुणवत्ता माह का शुभारभ्भ किया गया। इस अवसर पर आयुध निर्माणी में बने दो नये उत्पादों को भी प्रदर्शित किया गया। आयुध निर्माणी के माहप्रबंधक पी के दीक्षित ने जानकारी देते हुए बताया कि ये दोनों ही उत्पाद पहले सेना विदेश से खरीदती थी लेकिन अब ये पूर्ण रूप से आयुध निर्माणी देहरादून में बन रहे हैं और शीघ्र ही सेना के लिए इनकी आपूर्ति शुरू कर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आयुध निर्माणी देहरादून वर्तमान में गुणवत्ता के मामले में देश के  सभी 41 आयुध निर्माणियों में चौथे स्थान पर है।
पत्रकारों से बात करते हुए महाप्रबंधक ने बताया कि यह आयुध निर्माणी देहरादून के लिए बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने बताया कि सैन्य उपकरणों की मारक क्षमता को आक्रामक बनाने की दृष्टि से आयुध निर्माणी देहरादून ने एसाल्ट राईफल की मारक क्षमता को अधिक सटीक बनाने के लिए चार गुना अधिक दिखाई देने वाली एक साईट का निर्माण किया है। इसको डिजाईन करते समय इसके  ग्रेटीक्यूल का विशेष ध्यान रखा गया है। इसको पूरी तरह से आयुध निर्माणी देहरादून में ही डिजाईन किया गया है। अभी तक इस साईट को सेना विदेशों से खरीदती थी और अब इसे पूरी तरह से आयुध निर्माणी में बनाया गया है, जिसका सेना ने परीक्षण भी कर लिया है। उन्होंने बताया कि सेना ने इस साईट की खरीद के लिए निविदा आमंत्रित की है और इसके प्रथम चरण में तकनीकि रूप से हम सफल हो गये हैं। इसके लिए हालांकि कई अन्य कम्पनियों ने भी टेंडर डाले हैं, जिनमें कुछ विदेशी भी हैं या फिर विदेशी कम्पनियों के सहयोगी कम्पनियां हैं। उन्होंने बताया कि हम कीमत के हिसाब से भी सेेेेना के मानकों पर खरा उतरेंगे यह हमें पूरा विश्वास है।
उन्होंने बताया कि इसके अलावा टैंक पर लगने वाली गन के लिए भी एक साईट का निर्माण किया गया है। इसको मजल बोर नाम से जाना जाता है। सेना इस साईट को अभी तक रूस से खरीद रही थी और अब यह पूरी तरह से हमारे ही यहां बन रही है। इसकी कीमत भी पहले के मुकाबले आधी है। उन्होंने बताया कि आने वाले दिनों में भारतीय सेना को इसकी भी आपूर्ति शुरू कर दी गयी है। श्री दिक्षित ने बताया कि आयुध निर्माणी आने वाले दिनों में 28 गुना अधिक आवर्धन क्षमता वाली साईट पर काम रही है और शीघ्र ही इसका भी परीक्षण शुरू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गुणवत्ता माह के तहत हमने एक बार फिर से अपनी गुणवत्ता नीति को दोहराते हुए अपने उत्पादों की गुणवत्ता को पूर्ण रूप से कसौटी पर खरा रखने की शपथ ली। गुणवत्ता माह का शुभारम्भ सीक्यूएआई के कन्टोलर ब्रिगेडियर दीपक सचदेवा ने किया। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में उन्होंने आयुध निर्माणी के कर्मचारियों व अधिकारियों को शुभकामनायें देते हुए आशा व्यक्त की कि आयुध निर्माणी अपनी गुणवत्ता को बनाए रखेगी। इसके साथ ही यहां की महिला कर्मचारियों को सुविधा देने के लिए एक क्रेेच का भी उद्घाटन किया गया। क्रेच का उद्घाटन एस पी सिटी श्वेता चौबे ने किया। इस अवसर पर अपर महाप्रबंधक एस सी झा, सयुक्त महाप्रबंधक शर्मिष्ठा कौल, वीरेन्द्र चौधरी, दिव्या गौतम, राहुल कन्नौजिया, अशोक शर्मा, विश्वनाथ गौड़, कलीम अहमद, इन्दर सिंह, नीरज शर्मा, देवाशीष, उज्वल त्यागी, समेत अन्य कर्मचारी व अधिकारी मौजूद थे।