Home उत्तराखंड आवाज़: पीएम मोदी के जन्मदिन पर एनएसयूआई ने मनाया बेरोजगार दिवस

आवाज़: पीएम मोदी के जन्मदिन पर एनएसयूआई ने मनाया बेरोजगार दिवस

170
0

संवाददाता

देहरादून, 17 सितंबर। गुरुवार को एक ओर जहां भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर तरह तरह के कार्यक्रम आयोजित कर जश्न मना रहे थे, वहीं दूसरी ओर विपक्षी दल कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई यानी भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर सड़कों पर उतर आया। संगठन ने प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया।

एन एस यू आई कार्यकर्ता गुरुवार को करीब 12 बजे कांग्रेस भवन में एकत्र हुए और वहां बेरोजगारी को लेकर नारेबाजी करते हुए मार्च निकाला।घंटाघर होते हुए जब कार्यकर्ता दर्शनलाल चौक पर पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इससे गुस्साए कार्यकर्ता वहीं धरने पर बैठ गए। मौके पर तहसीलदार पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने तहसीलदार को राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा। इसके बाद कार्यकर्ता लौट गए। ज्ञापन में प्रदेश में प्राथमिक शिक्षकों, एलटी, समूह ग, वन दरोगा, फॉरेस्ट गार्ड, समीक्षा अधिकारी, ग्रुप डी, पीसीएस के पदों पर नियुक्ति की मांग की गई है।एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष मोहन भंडारी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने युवाओं को रोजगार का सपना दिखाया था। लेकिन, बेरोजगारी 45 सालों के शीर्ष स्तर पर है। उत्तराखंड का भी यही हाल है। यहां भी बेरोजगारी दर 2003 के मुकाबले 7 गुना अधिक हो गई है। उत्तराखंड सरकार तत्काल लंबित भर्ती परीक्षाओं को संपन्न करवाए अन्यथा एनएसयूआई बड़े आंदोलन के लिए बाध्य होगी।


छात्र नेताओं का कहना था कि उत्तराखण्ङ में युवाओं से भर्ती परीक्षा के फॉर्म तो भरवा दिए जाते हैं। लेकिन, परीक्षाएं नहीं करवाई जाती। यदि कुछ परीक्षाएं हो भी गई तो उनके परिणाम आज तक लटके हुए हैं। ऐसे में सालों से तैयारी कर रहे युवाओं के सब्र का बांध टूट रहा है सरकार तत्काल कार्यवाही करे।  प्रदर्शन में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्याम सिंह चौहान, प्रदेश महासचिव आयुष गुप्ता, जिला अध्यक्ष सौरभ ममगाईं , जिला महासचिव अभिषेक डोबरियाल, अजय रावत, विकास नेगी, हिमांशु रावत, उदित थपलियाल, वाशु शर्मा, शुभम नौटियाल, अंकित बिष्ट, सागर मनियारी, शशांक जोशी, उत्कर्ष जैन, सागर, उज्जवल लड्डू, सौरभ कुमार, आर्यन सेमवाल, हरीश जोशी, कपिल, रोशन नेगी आदि मौजूद रहे।