Home Home आवाज़: कृषि कानूनों के विरोध में राजभवन का घेराव करने पहुंचे किसानों...

आवाज़: कृषि कानूनों के विरोध में राजभवन का घेराव करने पहुंचे किसानों को पुलिस ने रोका 

148
0
संवाददाता
देहरादून 23 जनवरी।
 नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125 वीं वर्षगांठ के अवसर पर नेताजी को याद करते हुए केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन  किसान विरोधी कृषि बिलों के विरोध में सैकड़ों किसानों ने राजभवन देहरादून का जबर्दस्त घेराव किया तथा सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित किया। प्रर्दशनकारियों ने तीनों किसान बिलों को वापस लेने की पुरजोर मांग की । शनिवार को 12 बजे गांधी पार्क से शुरू हुआ किसानों और मजदूरों का जुलूस राजपुर रोड से कैन्ट रोड होता हुआ हाथीबड़कला पहुंचा जहां पुलिस ने जुलूस को आगे बढ़ाने से रोक दिया।
पुलिस से काफी जद्दोजहद के बाद जलूस आम सभा में परिवर्तित हो गया। सभा को किसान व मजदूर नेताओं ने सम्बोधित किया तथा काले कानून वापस लेने की मांग करते हुए  मोदी सरकार की दमनकारी नीतियों का जोरदार विरोध किया। सभा में राजभवन कूच के लिए आ रहे किसानों के जत्थों तथा ट्रैक्टरों को रोकने की कडे़ शब्दों में निन्दा करते हुए वक्ताओं ने कहा कि भाजपा सरकार किसानों की एकता से घबरा गयी है। रैली में किसान सभा ,किसान यूनियन ,सीटू, महिला समिति ,एस एफ आई ,महिला मंच ,बीज बचाओ आन्दोलन, वन जन श्रमिक यूनियन, वन गूजर यूनियन, सर्वोदय मण्डल,किसान यूनियन सतबीर आर्य आदि संगठनों की हिस्सेदारी रही।
प्रमुख वक्ताओं में संयुक्त किसान मोर्चा उत्तराखण्ड के संयोजक मण्डल के सुरेन्द्र सिंह सजवाण ,किसान सभा के महामंत्री गंगाधर नौटियाल, कोषाध्यक्ष शिवपप्रसाद देवली ,किसान नेता कमरूद्दीन ,सर्वोदय मण्डल के हरबीर कुशवाहा ,बीज बचाओ आन्दोलन के बीजू नेगी ,किसान यूनियन के सतबीर सिंह, दौलत कुवंर ,वन गुजर यूनियन के मुस्तफा चोपड़ा ,सीटूअध्यक्ष राजेंद्र नेगी, जिला महामन्त्री लेखराज ,महिला समिति महामंत्री दमयन्ती नेगी ,एस एफ आई के अध्यक्ष तथा महामंत्री नितिन मलेठा व हिमांशु चौहान, महिला मंच की निर्मला बिष्ट ,भार्गव चन्दोला ,नौजवान सभा के अध्यक्ष यूसुफ तिवारी ,मदन मिश्रा ,भूपाल सिंह रावत ,राजा राम सेमवाल ,माला गुरुग ,,आर पी जोशी ,अनन्त आकाश ,रजनी गुलेरिया ,किशन गुनियाल,सतकुमार,सचिन कुमार,सुरेंद्र सिहं राव ,नुरैशा ,उमा नौटियाल ,शैलेन्द्र ,शम्भु प्रसाद ,अनुराधा सुप्रिया,सोनाली ,नन्दन सिहनेगी ,आसाढ सिह ,विजय भट्ट ,भगवन्त पयाल ,रविन्द्र नौडियाल ,सतीश धौलाखण्डी , सैदुल्लाह ,कमलेश,गीता बिष्ट, ,नरेन्द्र ,मोहन रावत ,देवेश्वरी देवली ,सुन्दर थापा ,जगमोहन रांगड़,  राजेश कुमार महामंत्री डी वाई एफ आई आदि प्रमुख थे ।