Home उत्तराखंड शिक्षा: स्कूल खोलने की तैयारियों में जुटा शिक्षा विभाग, अकादमिक कैलेंडर के...

शिक्षा: स्कूल खोलने की तैयारियों में जुटा शिक्षा विभाग, अकादमिक कैलेंडर के आधार पर होगी पढ़ाई

116
0
संंवाददाता
देहरादून, 21 अक्टूबर। उत्तराखंड सरकार के निर्णय पर राज्य में आगामी 2 नवंबर से स्कूल खुलने जा रहे हैं। शिक्षा विभाग स्कूल खोलने की तैयारियों में जुट गया है। इस सिलसिले में  शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने बुधवार को वर्चुअल लैब के माध्यम से मुख्य शिक्षाधिकारियों, खंड शिक्षा अधिकारियों व उप शिक्षा अधिकारियों की बैठक  ली। कुंवर ने कहा कि जल्द ही जारी होने वाली SOP  का सभी विद्यालयों में पालन कराया जाएगा। इसके लिए  जिला व खंड स्तरीय अधिकारियों को नियमों का पालन कराने की  जिम्मेदारी दी जाएगी । उन्होंने कहा कि रामनगर बोर्ड की ओर से तैयार संसोधित पाठ्यक्रम और एनसीईआरटी  के वैकल्पिक अकादमिक कैलेंडर के आधार पर ही इस सत्र में पढ़ाई होनी है। ये दोनों ही दस्तावेज सभी जनपदों को उपलब्ध कराए गए हैं। 25 अक्टूबर तक जिला स्तरीय अधिकारी सभी प्रधानाचार्यों व शिक्षकों को उपलब्ध कराएंगे।

 

उन्होंने  विद्यालय खुलने से पहले व्यापक स्वच्छ्ता अभियान चलाये जाने की हिदायत देते हुए निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित किया जाय कि विद्यालयों के कमरों से लेकर टॉयलेट व पीने के पानी की जगह सभी साफ-सुथरी हो।
  इस अवसर पर अपर निदेशक महानिदेशालय, वंदना गर्ब्याल ने कहा कि एससीईआरटी ने स्कूल खुलने पर बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य व कोरोना से बचाव के लिए प्रकाश पुस्तिका तैयार की है। उन्होंने पुस्तिका को  प्रत्येक शिक्षक तक पहुंचाये जाने पर जोर देते हुए कहा कि प्रत्येक विद्यालय में इसका पालन किया जाय।

 

 

अपर निदेशक सीमैट शशि चौधरी ने कहा कि लंबे समय बाद स्कूल खुल रहे हैं, इसलिए स्कूल खुलने पर सीधे पढ़ाई शुरू करने के बजाय बच्चों को विद्यालयी वातावरण में ढालने के क्रियाकलाप किए जाएं। उन्होंने कहा कि इसके लिए सीमैट ने प्राज्ञता नाम से दिशा-निर्देश तैयार किये हैं, उनका हर हालत में पालन किया जाय।
बैठक में अपर निदेशक एससीईआरटी अजय नौडियाल, अपर सचिव बोर्ड मोहन रावत, कुलदीप गैरोला, डॉ मोहन सिंह बिष्ट, प्रदीप रावत, दिनेश गौर, विनोद ढौंडियाल आदि मौजूद रहे।