Home Home पेशी: पार्टी अध्यक्ष के समक्ष पेश हुए विधायक महेश नेेेगी, विरोधियों पर...

पेशी: पार्टी अध्यक्ष के समक्ष पेश हुए विधायक महेश नेेेगी, विरोधियों पर लगाया साजिश का आरोप 

213
0

संवाददाता

देहरादून- पिछले कुछ दिनों से दुष्कर्म के आरोपों से घिरे  भाजपा विधायक महेश नेगी  सोमवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के सामने पेश हुए। उन्होंने अध्यक्ष के सामने दुष्कर्म प्रकरण में  विस्तार से अपना पक्ष रखा। अपनी सफाई में  विधायक ने कहा कि वे किसी भी जाँच के लिए तैयार हैं। इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि  उन्हें महिला द्वारा एक षड़यंत्र के तहत फँसाने की कोशिश की जा रही है और इस साजिश में कुछ कांग्रेसी भी संलिप्त हैं। गौरतलब है कि विधायक महेश नेगी के खिलाफ एक महिला द्वारा दुष्कर्म करने की शिकायत की गई है। विधायक ने  सोमवार की शाम भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के सामने पेश होकर अपना पक्ष रखा। विधायक नेगी ने कहा कि आरोप लगाने वाली महिला एक षड़यंत्र के तहत उन्हें फँसाने का प्रयास कर रही है। इस षड़यंत्र में कुछ कांग्रेसी नेता भी शामिल हैं। विधायक नेेेगी ने आगे ये भी आरोप लगाया कि ये महिला पहले भी अन्य लोगों को गलत ढंग से फँसा चुकी है और उससे जुड़े कई मामले हैं।
विधायक नेगी ने बताया कि वे इस सम्बंध में और साक्ष्य एकत्र कर रहे हैं। वे इन साक्ष्यों को पुलिस को सौंपेंगे। इसके अलावा वे पुलिस को जाँच में पूरा सहयोग दे रहे हैं और देते रहेंगे।  नेगी ने कहा कि पहले इस महिला ने उन्हें ब्लैकमेल करने  का प्रयास किया और जब  उनकी पत्नी ने इस मामले की एफआईआर कराई तो महिला ने अपने को बचाने के लिए उन पर आरोप लगा दिए और पुलिस को तहरीर दे दी। विधायक ने भाजपा अध्यक्ष  भगत से कहा कि वे हर प्रकार की जाँच के लिए तैयार हैं। इस मामले में वंशीधर भगत ने बताया कि  नेगी ने उन्हें कुछ दस्तावेज भी दिखाए। उन्होंने कहा कि मामले की जाँच हो रही है और हम जाँच परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे हैं। उधर, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ देवेंद्र भसीन ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष भगत द्वारा विभिन्न मामलों में जिन चार विधायकों को अपना पक्ष रखने के लिए  आने को सूचना भिजवाई गई थी, उनमें से  चैम्पियन व  कर्णवाल के प्रकरण निस्तारित हो गए हैं। उन्होंने कहा कि  नेगी का प्रकरण पुलिस की विवेचनाधीन है। जबकि पूरण सिंह फर्त्याल से सम्पर्क न हो पाने के कारण उन्हें सूचना नहीं हो पाई। उन्हें पुनः सूचना कराई जा रही है।