Home उत्तराखंड हालात: उत्तराखंड में डाक्टरों के 1072 पद खाली, 116 डाॅक्टर लंबे समय...

हालात: उत्तराखंड में डाक्टरों के 1072 पद खाली, 116 डाॅक्टर लंबे समय से गैरहाजिर

197
0

 

 

संवाददाता
देहरादून, 25 अक्टूबर। उत्तराखंड में कोरोना काल में भी चिकित्सा अधिकारियों के 1072 पद खाली हैं जो कुल स्वीकृत 2735 पदोें के 39 प्रतिशत से अधिक है। यह खुलासा सूचना अधिकार के तहत उपलब्ध करायी गयी सूचना सेे हुआ। काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन (एडवोकेट) ने उत्तराखंड के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण महानिदेेशालय केे लोेक सूचना अधिकारी से उत्तराखंड में चिकित्सा अधिकारियों के पदों तथा उस पर कार्य कर रहे विदेशी डिग्री धारक चिकित्सकों की सूचना मांगी थी। इसके उत्तर में स्वास्थ्य महानिदेशालय के लोेक सूचना अधिकारी/संयुक्त निदेशक (प्रशा) राजीव सिंह पाल ने अपने पत्रांक 2240 दिनांक 11 अगस्त 2020 से सूचना उपलब्ध करायी है।
   
श्री नदीम को उपलब्ध सूचना के अनुसार उत्तराखंड में चिकित्सा अधिकारियों के कुल 2735 स्वीकृत पद हैै जिसमें से 1072 पद रिक्त है तथा 1663 कार्यरत पदों की संख्या हैै। सूचना के अनुसार 116 चिकित्सा अधिकारी ऐसे भी हैै जो लम्बेे समय से अनुपस्थित चल रहे है तथा 04 चिकित्सा अधिकारी नगर निगमों में नगर स्वास्थ्य अधिकारी व अन्य पदों पर भी प्रदेश में कार्यरत हैं। श्री नदीम को उपलब्ध सूचना केे अनुसार 01 जनवरी 2018 से अगस्त 2020 तक लगभग ढाई वर्ष के समय में 573 चिकित्सा अधिकारियाें की लम्बे समय से अनुपस्थित रहने व अन्य कारणों से सेवायें भी समाप्त की गयी हैै। इसके अतिरिक्त 01 जनवरी 2011 से अगस्त 2020 तक लगभग 10 वर्षों में 137 चिकित्सा अधिकारियों ने सेवा से त्यागपत्र दिया हैै व वी.आर.एस. भी लिया है। श्री नदीम को उपलब्ध सूचना के अनुसार एक अत्यंत चौंकाने वाली जानकारी सामने आयीे है। इसके अनुसार उत्तराखंड में कार्यरत 68 चिकित्सा अधिकारी ऐेसेे हैैं जिन्होेंने विदेशी विश्वविद्यालयों से एमबीबीएस किया है, लेकिन उनमें से 42 चिकित्सा अधिकारियोें ने विदेेशी मेडिकल शिक्षा की गुणवता व ऐसेे डिग्री धारकों की योग्यता जांचने केे लिये अनिवार्य स्क्रीनिंग टेस्ट एफ.एम.जी.आई. (फारेन मेडिकल ग्रेजुएट एक्जाम) पास नहीं किया है। केवल 27 चिकित्साधिकारियों ने ही स्क्रीनिंग टेेस्ट पास किया हैै। एफ.एम.जी.ई. परीक्षा पास किये बिना उत्तराखंड की सरकारी सेवा में शामिल चिकित्सा अधिकारी उत्तराखंड के 12 जिलों के अस्पतालोें व स्वास्थ्य केन्द्रों व कार्यालयों में सेवायें कर रहे है।