Home उत्तराखंड ​सौगात: किसानों व बेरोजगारों को मिलेगा ब्याज मुक्त ऋण, राज्य स्थापना दिवस...

​सौगात: किसानों व बेरोजगारों को मिलेगा ब्याज मुक्त ऋण, राज्य स्थापना दिवस पर सीएम करेंगे श्रीगणेश

100
0
वी.पी.सिंह बिष्ट
देहरादून, 03 नवम्बर।
राज्य सरकार आगामी 09 नवम्बर 2020 को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर किसानों एवं बेरोजगार युवाओं के लिए शून्य ब्याज दर पर 03 लाख रुपये के ऋण की सौगात देगी। इस योजना का शुभारम्भ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत स्वयं करेंगे। यह जानकारी राज्य के सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत ने आज विधानसभा स्थित कार्यालय में सहकारिता विभाग की समीक्षा बैठक के उपरांत दी।
डाॅ. रावत ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा किसानों की आय दुगना करने के उद्देश्य से कई योजनाएं संचालित की जा रही है। जिसके तहत सहकारी बैंकों के माध्यम से किसानों को रुपये एक लाख व तीन लाख तथा समूहों को पांच लाख तक के ऋण शून्य ब्याज दर पर दिये जा रहे हैं। इस योजना के तहत प्रदेश भर से हजारों की संख्या में आवेदन प्राप्त हो रहे हैं। जिसको देखते हुए शून्य ब्याज दर पर रुपये तीन लाख के ऋण आवंटन का शुभारम्भ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा राज्य स्थापना दिवस के मौके पर किया जायेगा। जबकि रुपये एक लाख और 5 लाख के ऋणों का आवंटन पहले से ही किया जा रहा है। पूरे प्रदेश में अभी तक विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत एक लाख से अधिक किसानों को सहकारिता बैंकों के माध्यम से ऋण वितरित किया जा चुका है। जबकि वर्तमान वित्तीय वर्ष में कोविड-19 के कारण कई माह तक कार्य में बाधा भी आई।
बैठक में दीनदयाल उपाध्याय किसान ऋण, एमटी तथा एसटी ऋण, नई बैंक शाखाओं की प्रगति, एटीएम वैन एवं ई-लाॅबी, पैक्स कम्प्युटराइजेशन, पैक्स सचिवों की नियमावली सहित तमाम विभागीय योजनाओं की समीक्षा करते हुए उपरोक्त योजनाओं में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि पैक्स कम्प्युटराइजेशन पूर्ण होने के उपरांत समितियां सीधे तौर पर सहकारी बैंकों से लिंक हो जायेगी। जिससे ऋण वितरण सहित लेन-देन के कार्यों में पारदर्शिता आयेगी।
बैठक में सहकारिता सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम, निबंधक सहकारिता बी.एम. मिश्रा, अपर निबंधक ईरा उप्रेती, आनंद शुक्ला, उप निबंधक रामेंद्री मंद्रवाल, आर त्रिपाठी सहित कई अधिकारी मौजूद रहे।