Home उत्तराखंड समीक्षा: PMGSY की सड़कों के रख रखाव के लिए होगी बजट की...

समीक्षा: PMGSY की सड़कों के रख रखाव के लिए होगी बजट की व्यवस्था: डॉ धन सिंह रावत

207
0

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में PWD व PMGSY के शीर्ष अधिकारियों की होगी बैठक
संवाददाता
देहरादून, 23 दिसंबर।

प्रदेश में पीएमजीएसवाई द्वारा बनाई गई सड़कों के रख-रखाव की समस्या के निराकरण के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में लोक निर्माण विभाग एवं पीएमजीएसवाई के शीर्ष अधिकारियों की शीघ्र बैठक आयोजित कर समाधान निकाला जायेगा। डा. रावत ने कहा कि प्रदेश भर में पीएमजीएसवाई की सड़कों की समस्या उजागर हुई है, जिसके निराकरण का रास्ता तलाश लिया जायेगा। यह बात सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल एवं चार जनपदों के प्रभारी मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत ने टिहरी जनपद में पीएमजीएसवाई के अधीन सड़कों की प्रगति एवं प्रतिकर भुगतान की समीक्षा बैठक में कही।


विधानसभा सत्र के भोजनावकाश के समय विधानसभा स्थित अपने कार्यालय कक्ष में जनपद टिहरी के चार विधायकों विजय सिंह पंवार, धन सिंह नेगी, विनोद कंडारी एवं शक्ति लाल शाह की मौजूदगी में पीएमजीएसवाई के अधिकारियों के बैठक ली गई। जिसमें जनपद के अंतर्गत पीएमजीएसवाई के द्वारा बनाई गई सड़कों के रख रखाव, नव निर्माण एवं प्रतिकर भुगतान की जनकारी ली गई। पीएमजीएसवाई के मुख्य अभियंता के.पी.उप्रेती ने बताया कि विभाग के पास वर्तमान में पूरे प्रदेश में 300 सड़कें हैं जिनकी लम्बाई लगभग 1700 किलोमीटर है। जिनके रख रखाव के लिए केन्द्र व राज्य सरकार से बजट की कोई व्यवस्था नहीं है। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में विभाग के ऊपर 71 करोड़ की देनदारी है जबकि अकेले जनपद टिहरी में इस वित्तीय वर्ष में विभिन्न मदों के तहत 13 करोड़ की देनदारी है। जिस कारण कुछ सड़कों के मरम्मत, डामरीकरण सहित अन्य कार्य अधूरे पड़े हैं। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि योजना के अंतर्गत पांच साल पूरे हो चुके सड़कों के रख रखाव हेतु भारत सरकार द्वारा बजट की कोई व्यवस्था नहीं की गई है। जिस कारण कई सड़कों की स्थिति खराब हो चुकी है।
जनपद टिहरी में तैनात अधिशासी अभियंता आर.वी. तिवारी, संजय श्रीवास्तव एवं जे.पी. रतूड़ी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा पीएमजीएसवाई द्वारा बनाई गई सड़कों को पांच साल बाद लोक निर्माण विभाग को हस्तानांतरित करने के आदेश पूर्व में जारी किये गये थे लेकिन लोक निर्माण विभाग के कई खण्ड बजट का अभाव बता कर इन सड़कों को लेने से इंकार कर रहे हैं। जिस कारण प्रदेश के विभिन्न जनपदों में पीएमजीएसवाई की पांच वर्ष पूर्ण कर चुकी सड़कों की स्थिति काफी जर्जर है। जिनके रख रखाव के लिए राज्य सरकार को बजट व्यवस्था करनी चाहिए।
बैठक में विधायक प्रतापनगर विजय सिंह पंवार, विधायक टिहरी धन सिंह नेगी, विधायक देवप्रयाग विनोद कंडारी एवं घनसाली के विधायक शक्ति लाल शाह, मुख्य अभियंता पीएमजीएसवाई के.पी. उप्रेती, अधिशासी अभियंता कीर्तिनगर जे.पी.रतूड़ी, अधिशासी अभियंता नई टिहरी संजय श्रीवास्तव, अधिशासी अभियंता नरेन्द्रनगर आर.वी. तिवारी, सहायक अभियंता चम्बा जतेश सैनी, सहायक अभियंता नई टिहरी विनय बोरा, सहायक अभियंता टिहरी प्रथम मंगलेश बडोनी, एएई शम्भू प्रसाद, मनोज सिंह सहित कई विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।