Home अपराध शिकंजा: मैनेजर का अपहरण करने वाले पांच आरोपी गिरफ्तार, महिला सहित दो...

शिकंजा: मैनेजर का अपहरण करने वाले पांच आरोपी गिरफ्तार, महिला सहित दो फरार

127
0

 

संवाददाता

काशीपुर, 20 नवंबर। अपनी कंपनी का केमिकल खरीदने का दबाव बनाने के लिए कंपनी मालिक ने कुछ लोगों के साथ मिलकर पेपर मिल के परचेज मैनेजर को अगवा कर लिया और उसके साथ मारपीट भी की। लेकिन पुलिस ने सूचना मिलते ही त्वरित कार्रवाई करते हुए अपह्रत को बरामद कर पांच बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जबकि महिला समेत दो लोग फरार बताये जा रहे हैं।
यह सनसनीखेज वारदात गुरुवार देर रात की है । तीन कारों में सवार होकर आये बदमाशों ने जसपुर रोड स्थित विश्वनाथ पेपर मिल से ड्यूटी कर घर लौट रहे परचेज मैनेजर दीपक कुमार पुत्र हरपाल सिंह को अगवा कर उसकी बुरी तरह से पिटाई करने के बाद बैग में रखी हजारों की नकदी लूट ली। अपहरण की वारदात की सूचना मिलने पर एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर रात्रि लगभग 11:30 बजे काशीपुर पहुंच गए। उन्होंने अपहरणकर्ताओं को पकड़ने और अपहृत को बरामद करने के लिए पुलिस टीम गठित करने का निर्देश दिया। पुलिस टीम ने तत्परता दिखाते हुए रातों-रात बदमाशों में से 5 को दबोच लिया। जबकि एक महिला समेत दो अभी फरार बताए जा रहे हैं। पकड़ में आये बदमाशों के कब्जे से पुलिस को लूटी गई नकदी व अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं। शुक्रवार को घटना का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक राजेश भट्ट ने अपने कार्यालय में बताया कि फरार अभियुक्तों को भी जल्द दबोच लिया जायेगा।
मूल रूप से ग्राम मौजमपुर सूरज, तहसील- धामपुर, जनपद बिजनौर, उत्तर प्रदेश व हाल निवासी मधुबन नगर में रहने वाली शिखा रानी पत्नी दीपक कुमार ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसके पति दीपक कुमार पुत्र हरपाल सिंह विश्वनाथ पेपर मिल में परचेज मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं। रोजाना की भांति गुरुवार को वह डयूटी करके वापस घर लौट रहे थे कि उसी दौरान घर के समीप क्रेटा संख्या यूके 18एल/3190 व एसयूवी संख्या एचआर 36आर/8181 एवं एक अन्य कार पर सवार महिला समेत आधा दर्जन अज्ञात बदमाशों ने उन्हें रास्ते से बलपूर्वक अगवा कर लिया। घटना के तत्काल बाद ही मौहल्ले की ही किसी महिला ने अपहरण करने की सूचना 112 नंबर पर दी । सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर को जब इसका पता चला तो देर रात 11:30 बजे वह भी काशीपुर पहुंच गए।

पुलिस ने कार्यवाई करते हुए टीमों का गठन कर सीसीटीवी फुटेज के आधार पर सुरागरसी पतारसी करते हुए अलीगंज रोड स्थित बाली पैट्रोल पंप के थोड़ा आगे एक गोदाम के अंदर से अपहृत दीपक को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाते हुए मौके से पांच अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़ में आये बदमाशों ने अपने नाम ग्राम जमशेदपुर, थाना- डिलारी, जिला मुरादाबाद निवासी अमित कुमार (32) पुत्र हरपाल सिंह, छीना फार्म ढकिया गुलाबो निवासी सुनील सिंह (35) पुत्र राजेन्द्र सिंह, न्यू आवास विकास काशीपुर निवासी अंकित चौधरी (31) पुत्र बलवीर सिंह, सरोजनी नगर अलीगंज रोड, काशीपुर निवासी विशाल भारद्वाज (26) पुत्र कुलदीप भारद्वाज व खड़कपुर देवीपुरा थाना आईटीआई निवासी अशोक ठाकुर (44) पुत्र वेदप्रकाश बताये। तलाशी में पांचों के कब्जे से पुलिस को लूटे गये 10 हजार रूपये, पर्स, आधार कार्ड, एटीएम कार्ड, विजिटिंग कार्ड बरामद हुए। घटना में प्रयुक्त दोनों कारों को पुलिस ने कब्जे में लेकर सीज कर दिया। एएसपी राजेश भट्ट ने बताया कि वारदात में शामिल आवास विकास निवासी मनोज चौधरी पुत्र ओमकार सिंह तथा कलश मंडप के समीप निवासी कैमिकल कंपनी की ऑनर प्रियंका चौहान नामक महिला की सरगर्मी से तलाश जारी है । बताया कि जल्द ही फरार दोनों अभियुक्तों को सलाखों के पीछे किया जायेगा। वारदात में शामिल पांचों बदमाशों में से चार अलग-अलग फाइनेंस कंपनियों में काम करते हैं। मनोज चौधरी और महिला प्रियंका चौहान रिलेशनशिप में रहते हैं तथा पार्टनरशिप में केमिकल सप्लाई का करते हैं।