Home Home हलचल: खेतों में दिखे गुलदार के पंजों के निशान, आबादी क्षेत्र में...

हलचल: खेतों में दिखे गुलदार के पंजों के निशान, आबादी क्षेत्र में गुलदार ने फिर दी दस्तक

79
0

संवाददाता

हल्द्वानी, 19 नवंबर। सुंदरपुर रैक्वाल गांव के खेतों में जगह-जगह गुलदार के पंजों के निशान मिलने से ग्रामीणों में डर का महौल बना हुआ है। ग्रामीणों ने वन विभाग की टीम से गांव में पिंजरा लगाने की मांग की है। इस संबंध में फारेस्ट अफसरों का कहना है कि एक टीम सुंदरपुर रैक्वाल में भेजी जाएगी। पहाड़ के साथ-साथ हल्द्वानी में भी गुलदार का आतंक मई से शुरू हो गया था। पहले रानीबाग ग्राम पंचायत में दो महिलाओं को गुलदार द्वारा निवाला बनाया गया। नरभक्षी घोषित होने के बाद इस गुलदार को शिकारी की गोली भी लगी लेकिन वह जंगल को भाग निकला। उसके बाद इस क्षेत्र में दोबारा नहीं दिखा। इससे पहले देवलचैड़ स्थित पालम सिटी व केशवकुंज विहार में डेढ़ माह तक गुलदार लगातार नजर आया। अक्टूबर की शुरूआत में फतेहपुर क्षेत्र में गुलदार की आतंक बढ़ गया। यहां उसने आठ लोगों पर हमला भी किया। गनीमत रही कि किसी की जान नहीं गई। हालांकि, एक किशोरी के गंभीर घायल होने पर उसे एम्स ऋषिकेश रेफर करना पड़ा था। वहीं, पिछले दो माह से गौलापार में गुलदार नहीं दिख रहा था। कुछ हिस्सों में हाथियों का आतंक था। मगर अब सुंदरपुर रैक्वाल ग्राम पंचायत में फिर से गुलदार पहुंच गया। स्थानीय काश्तकर नीर रैक्वाल ने बताया कि पूरे गांव में दहशत का माहौल बन चुका है। लोग घरों से न‍िकलने में संकोच कर रहे हैं।