Home उत्तराखंड लॉकडाउन: उत्तराखंड में फंसे बाहरी मजदूरों मेंं बढ़ने लगा तनाव, उतर आए...

लॉकडाउन: उत्तराखंड में फंसे बाहरी मजदूरों मेंं बढ़ने लगा तनाव, उतर आए सड़कों पर

171
0
देहरादून- लॉकडाउन की सबसे तगड़ी मार दिहाड़ी मजदूरों और अल्पवेतनभोगी कामगारों पर पड़ी है। रोजीरोटी छिन जाने से मायूस ये तमाम लोग अब अपने घर लौट जाने को बेताब हैं। अन्य राज्यों की तरह उत्तराखण्ड में भी  बाहरी राज्योें के मजदूरों की बहुत बड़ी तादाद है। लॉकडाउन के चलते मुश्किलों से जूझ रहे यहां  पर फंसे इन मजदूरों का धैर्य भी अब जवाब देने लगा है और वह किसी भी कीमत पर अब अपने घर लौट जाना चाहते हैंं। देहरादून में लॉकडाउन के कारण फंसे सैकड़ों की संख्या में बिहारी मजदूर सोमवार को सड़कों पर उतर आये और सरकार से उन्हें बिहार भिजवाने की मांग को लेकर प्रदर्शन करने लगे। बिहार के इन मजदूरों में बिहार की नितीश सरकार को लेकर भारी आक्रोश है। उनका कहना है कि सभी राज्यों की सरकारों ने अपने लोगों को वापस बुलाने की व्यवस्था की है, लेकिन बिहार सरकार बिहार के लोगों को ही अपने घर नहीं आने दे रही है और न उनके आने की व्यवस्था की है। इन प्रदर्शनकारी मजदूरों ने बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की ।
रिस्पना पुल हरिद्वार रोड पर जमा इन सैकड़ों मजदूरों ने आज लॉकडाउन के सोशल डिस्टेंसिंग की भी धज्जियांं उड़ा दी। इन मजदूरों का कहना है कि महीनों से वह एक टाइम रोटी खाकर वक्त बिता रहे हैंं। उन्होंंने उत्तराखण्ड सरकार से उन्हेंं बिहार जाने देने की मांग की। उनका कहना है कि वह चाहे जैसे भी जायें लेकिन अपने घर वापस जाना चाहते हैंं। पुलिस ने जैसे तैसे इन मजदूरों को समझा बुझा कर यहां से हटाया और उन्हेंं भरोसा दिलाया कि अब जल्द ही रेलों का संचालन शुरू होने वाला है, जिससे वह अपने घर जा सकेंगे।