Home उत्तराखंड शर्मनाक:  चरस तस्करी में पकड़ा गया क्षेत्र पंचायत सदस्य, साथी भी हुआ...

शर्मनाक:  चरस तस्करी में पकड़ा गया क्षेत्र पंचायत सदस्य, साथी भी हुआ गिरफ्तार 

55
0
अल्मोड़ा-  यहां एक जनप्रतिनिधि के नशा तस्करी में पकड़े जाने की  शर्मनाक घटना सामने आई है।  खुद को जनता का सेवक बताने वाले  जनप्रतिनिधियों को शर्मशार करने वाली यह घटना जिले के लमगड़ा थाना क्षेत्र की है।  एसएसपी अल्मोड़ा पीएन मीणा के नेतृत्व और दिशा—निर्देशन में मादक पदार्थों और इनकी तस्करी में लिप्त लोगों के खिलाफ चल रहे अभियान को जनपद में भारी सफलता मिल रही है। आज यहां आपरेशन नया सवेरा के अन्तर्गत एसओजी व थाना लमगड़ा पुलिस ने दो युवकों के कब्जे से एक किलो, 406 ग्राम चरस बरामद की है। खास बात यह है कि इनमें से एक युवक क्षेत्र पंचायत सदस्य है। दोनों अभियुक्तों के खिलाफ थाना लमगड़ा में धारा 8/20 एनडीपीएस एक्ट में अभियोग पंजीकृत कर दिया गया है।
प्रभारी एसओजी नीरज भाकुनी ने बताया कि गत दिवस उनि मोहन सिंह सौन, कानि दीपक खनका, एसओजी उनि श्याम सिंह बोरा, कानि योगेश गोस्वामी व विजयचंद, थाना लमगड़ा की संयुक्त टीम चैकिंग पर थी। एक गोपनीय सूचना पर पुलिस विष्णु मंदिर मोड़ के पास पहुंची, जहां नारायण लाल पुत्र हरी राम, निवासी- ग्राम मज्यूली, पोस्ट- पहाड़पानी, तहसील- धारी, नैनीताल व खजान चन्द्र मेलकानी, पुत्र- तारा चन्द्र मेलकानी, निवासी ग्राम- सैलालेख, पोस्ट- पहाड़पानी, तहसील- धारी, जिला- नैनीताल संदिग्ध अवस्था में मिले। दोनों की जामा तलाशी (राजपत्रित अधिकारी) वीर सिंह, पुलिस उपाधीक्षक अल्मोड़ा के समक्ष लेने पर नारायण लाल के कब्जे से 606 ग्राम व खजान चन्द्र मेलकानी के कब्जे से 800 ग्राम चरस कुल 1 किलो 406 ग्राम (कीमत एक लाख चालीस हजार रुपये) बरामद की हुई। पुलिस टीम द्वारा दोनों को गिरफ्तार कर थाना लमगड़ा में एनडीपीएस एक्ट के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत कराया गया है। इनके आपराधिक इतिहास का पता लगाया जा रहा है। खजान चन्द्र मेलकानी ने बताया कि वह क्षेत्र पंचायत सदस्य सैलालेख, नैनीताल है। वह चरस को अपने गांव में थोड़ी—थोड़ी मात्रा में इकट्ठा कर अच्छा मुनाफा कमाने के लिये बेचने की फिराक में था।