Home राजनीति पलटवार: पीएम की सुरक्षा चूक मामले में कांग्रेस नेता सुरेंद्र कुमार का...

पलटवार: पीएम की सुरक्षा चूक मामले में कांग्रेस नेता सुरेंद्र कुमार का भाजपा पर जवाबी हमला

 

पंजाब के सीएम चन्नी के बचाव में उतरे कांग्रेस उपाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार

केंद्रीय गृहमंत्री, गृह सचिव व जिम्मेदार सुरक्षा एजेंसियों को बर्खास्त करने की उठाई मांग

कांग्रेस कार्यालय पर भाजपा युवा मोर्चा के प्रर्दशन को बताया गलत

संवाददाता
देहरादून, 06 जनवरी।

उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष व सलाहकार सुरेंद्र कुमार ने आरोप लगाया है कि भीड़ न जुट पाने के चलते फ्लाप हुई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बठिंडा (पंजाब) रैली की नाकामी का ठीकरा भाजपा नेता सुरक्षा चूक पर थोप रहे हैं। उन्होंने भाजपा युवा मोर्चा द्वारा कांग्रेस कार्यालय पर किये गये प्रर्दशन की निंदा करते हुए कहा कि मोर्चा को यह प्रर्दशन केन्द्रीय गृह मंत्री के आवास पर करना चाहिए था। उन्होंने घटना को लेकर कई बिन्दु उठाते हुए कहा कि बीजेपी और उसके सहयोगी संगठन प्रधानमंत्री की रैली में भीड़ न जुटने की खीझ को सुरक्षाचूक के बहाने मिटाने की कोशिश कर रहे हैं। कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी राज्य सरकार की नहीं बल्कि एसपीजी की होती है और एसपीजी सुरक्षा प्राप्त हर व्यक्ति का रूट चार्ट एसपीजी की निगरानी में होता है। पूरे रास्ते में एसपीजी के लोग अपने हिसाब से सुरक्षा घेरा बनवाते हैं। एसपीजी किसी भी क्षेत्र विशेष को या अधिकारी को अपने नियंत्रण में ले सकती है। ऐसे में यह बड़ा सवाल है कि क्या पंजाब यात्रा के दौरान एसपीजी ने ऐसा नहीं किया ? यदि नहीं किया तो क्यों नहीं किया और नहीं करने के कारण एसपीजी के प्रमुख और गृहमंत्री से इस्तीफा कब लिया जाएगा। फिरोजपुर में जहां किसानों ने रास्ता रोका वह क्षेत्र राज्य सरकार की पुलिस के अंतर्गत आता ही नहीं क्योंकि मोदी सरकार की दखलदांजी नीति के कारण हाल ही में बॉर्डर क्षेत्र के 50 किमी क्षेत्र को बीएसएफ की निगरानी में दे दिया गया है और वो रास्ता बॉर्डर से महज़ 10 किमी दूरी पर है। तो क्या केंद्र सरकार मानती है कि बीएसएफ ने प्रधानमंत्री के सुरक्षा क्षेत्र की निगरानी नहीं की ? यदि ऐसा है तो बीएसएफ के मुखिया होने के नाते गृहमंत्री इस्तीफा देंगे ? कांग्रेस उपाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री का इस्तीफा मांगने वाले पहले देश को यह बताएं कि प्रधानमंत्री को हैलीकॉप्टर से 112 किलोमीटर की दूरी तय करनी थी मगर उन्होंने अचानक से कार में जाने का फैसला आखिर किसकी सलाह पर लिया और क्या 112 किमी सड़क को बिना पूर्व सूचना के सुरक्षाकर्मियों द्वारा घेर पाना सम्भव है ? उन्होंने कहा कि क्योंकि केंद्र सरकार भी जानती है कि पंजाब में किसान मोदी के विरोध में सड़क पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे हैं ऐसे में आईबी की इंटेलिजेंस कहाँ थी ? क्या वो प्रधानमंत्री की सुरक्षा में होने वाली चूक को पहले नहीं भांप पाई ? और यदि आईबी को पूरी घटना की जानकारी नहीं हो सकी तो क्या आईबी के मुखिया के रूप में गृहमंत्री इस्तीफा देंगे ? भाजपा के साथी और मंत्री जो सवाल पंजाब की चन्नी सरकार से कर रहे हैं वो असल में उन्हें केंद्रीय गृहमंत्री से करना चाहिए, क्योंकि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में अगर चूक हुई है तो उसके लिए एसपीजी, बीएसएफ और आईबी जिम्मेदार हैं और ये तीनों केंद्रीय विभाग गृहमंत्रालय के अंतर्गत आते हैं।

RELATED ARTICLES

पंजाब में कांग्रेस की प्रत्याशी लिस्ट जारी,देखिये कौन है इनमे शामिल  

पंजाब भाजपा और आप के बाद अब कांग्रेस ने भी अपने प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है। विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस की पहली सूची...

भाजपा के प्रत्याशियों की पहली सूची जारी,देखिये कौन बना किस जगह का प्रत्याशी  

उत्तरप्रदेश में चुनाव का माहौल काफी गर्मागर्मी का बना हुआ है इस बीच भाजपा ने कई अटकलों को दूरं करते हुए अपने प्रत्याशियों की...

भाजपा के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका,पार्टी को छोड़ जोगिंदर सिंह मान थाम सकते है आप का हाथ   

विधानसभा चुनाव से पहले पंजाब में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री बूटा सिंह के भांजे और कांग्रेस के कद्दावर दलित...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

शुभ प्रभात: जानिए, क्या कहते हैं आज़ आपके भाग्य के सितारे

आज़ का राशिफल: मंगलवार, 18 जनवरी 2022 मेष- आज का दिन सामान्य रहेगा। व्यावसायिक क्षेत्र में सफलता मिलेगी और धनलाभ की स्थिति रहेगी, लेकिन अनावश्यक...

खुद का नहीं तो पत्नी को टिकट दिलाने की कोशिश में जुटे विधायक कर्णवाल : डाला दिल्ली में डेरा

रुड़की। झबरेड़ा से टिकट बचाने के लिए भाजपा के सीटिंग विधायक देशराज कर्णवाल ने दिल्ली में डेरा डाल दिया है। पार्टी ने उन्हें भगवानपुर...

कोरोना आज: 3295 नए मामलों के साथ ही 04 मरीजों की हुई मौत

देहरादून। उत्तराखंड में वैश्विक महामारी कोविड-19 का कहर जारी है। आज राज्य के सभी 13 जनपदों में कोरोना वायरस के 3295 नये मामले सामने...

त्रिवेंद्र सिंह रावत से भिड़ने वाली शिक्षिका ने थामा यूकेडी का दामन 

अर्जुन सिंह इंडिया टाइम्स: रविवार को उत्तराखंड क्रांति दल संसदीय बोर्ड अध्यक्ष के नेतृत्व में उतरा पन्त बहुगुणा ने दल का दामन थामने पर...

प्रेशर पॉलिटिक्स के महारथी अब खुद हुए अंडर प्रेशर

देहरादून। कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के भाजपा से 6 साल के लिए बर्खास्त होने के बाद देहरादून से लेकर दिल्ली तक यही चर्चा...

दल-बदल: महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष सरिता आर्य भाजपा में हुई शामिल

  उत्तराखंड के राजनीतिक की बड़ी खबर देहरादून, 17 जनवरी। उत्तराखंड महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष सरिता आर्य पहुंची बीजेपी प्रदेश कार्यालय में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मदन...

जॉगिंग की शुरूआत करने वाले हैं तो इन बातों का रखें ध्यान

जॉगिंग एक तरह की एक्सरसाइज है, जिसमें व्यक्ति को धीमी गति में दौडऩा होता है। इस एक्सरसाइज को रोजाना करने से आपको कई तरह...

एकता कपूर के शो नागिन 6 में तेजस्वी प्रकाश को लाने की तैयारी

बिग बॉस 15 में एंट्री करने के बाद अभिनेत्री तेजस्वी प्रकाश की लोकप्रियता काफी बढ़ गई है। उन्हें दर्शकों का भरपूर प्यार मिल रहा...

बिना नक्शे-कैलेंडर के भागता वक्त

शमीम शर्मा आज मेरे ज़हन में उस नौजवान की छवि उभर रही है जो सडक़ किनारे नक्शे और कैलेंडरों के बंडल लिये बैठा रहा करता।...

उत्तराखंड बीजेपी ने उठाया सख्त कदम, हरक सिंह रावत को मंत्रिमंडल समेत बीजेपी से किया 6 साल के लिये निष्कासित

देहरादून । भाजपा ने कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को 6 वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है। इसके साथ ही हरक...