Home उत्तराखंड एसटीएफ: कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर 12 करोड़ की ठगी करने...

एसटीएफ: कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर 12 करोड़ की ठगी करने वाले शातिर दबोचे

183
0

अमित कुमार

देहरादून, 17 दिसंबर। राज्य एसटीएफ ने देशभर में करीब 12 करोड़ रुपए की ठगी करने वाले शातिरों को धर दबोचा है। ये शातिर अपराधी विगत वर्षों से टेलीविजन पर प्रसारित लोकप्रिय कार्यक्रम कौन बनेगा करोड़पति को आधार बनाते हुये आम जनता को इस कार्यक्रम में लॉटरी जीतने का लालच देकर उनसे ठगी कर चुके हैं।

कौन बनेगा करोड़पति में लॉटरी जीतने के नाम पर धोखाधड़ी सम्बन्धी एक शिकायत एसटीएफ को प्राप्त हुई थी जिसकी जांच साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन से करायी गयी। जिसमें भारतीय सेना में हवलदार के पद पर कार्यरत व्यक्ति को साईबर अपराधी द्वारा वॉट्सअप पर लक्की ड्रा के आधार पर उनका मोबाईल नम्बर कौन बनेगा करोड़पति मे 25 लाख की लॉटरी जीतने का संदेश प्राप्त हुआ। धनराशि को प्राप्त करने हेतु रजिस्ट्रेशन शुल्क, बैंक शुल्क, इनकम टैक्स आदि के नाम पर अपराधियों द्वारा विभिन्न बैंक खातों में धोखाधड़ी कर लगभग 07 लाख जमा करवाये गये थे। जिसके सम्बन्ध में वादी द्वारा की गई शिकायत के आधार पर मुकदमा दर्ज कराया गया।  प्रकरण के खुलासे के लिए विवेचना साईबर थाने में नियुक्त निरीक्षक पंकज पोखरियाल को सुपूर्द कर एक टीम का गठन किया गया।

टीम ने साइबर ठगों द्वारा प्रयोग किये गये मोबाईल नम्बर, बैंक खातों का विवरण प्राप्त कर विश्लेषण किया गया तो जानकारी हुई कि इनके द्वारा वादी को जिन नम्बरों से वाट्सअप कॉल की गयी थी वे नम्बर कर्नाटक तथा बिहार सर्किल के थे जिनके पाकिस्तान के आईपी एड्रेस का प्रयोग कर वादी से वाट्सअप पर कॉल की गयी थी। बैंक खातों की जानकारी की गयी तो पता चला कि साईबर अपराधियो द्वारा तमिलनाडू, असम, बिहार, उत्तर प्रदेश, गुजरात आदि प्रदेशों के पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ इन्डिया, भारतीय स्टेट बैंक के कुल 14 बैंक खातों का प्रयोग करते हुये धोखाधड़ी से 07 लाख की धनराशि जमा करायी गयी है। इन खातो के बैंक स्टेटमैन्ट का अवलोकन करने पर तिरुवेनवेली, तमिलनाडू स्थित पंजाब नेशनल बैंक के खाते में माह अप्रैल 2020 से अगस्त 2020 के मध्य लगभग 04 लाख, मदुरई तमिलनाडू स्थित एसबीआई के खाते में तीन माह मे लगभग 1 लाख रुपये कानपुर, उ0प्र0 स्थित पीएनबी खाते में 03 माह में करीब 10 लाख रुपये, इलाहबाद स्थित एसबीआई के खाते में जनवरी से मार्च 2020 तक 11.60 लाख से अधिक, जौनपुर, उत्तर प्रदेश स्थित एसबीआई के खाते में माह जनवरी से मार्च तक 02 लाख रुपये, गोपालगंज बिहार से धोखाधड़ी करके जमा कराई है।