Home उत्तराखंड राहत: शिकारी आसिफ सैफी ने मार गिराया आदमखोर गुलदार, ग्रामीणों ने ली...

राहत: शिकारी आसिफ सैफी ने मार गिराया आदमखोर गुलदार, ग्रामीणों ने ली राहत की सांस

193
0

संंवाददाता

अल्मोड़ा, 12 मार्च।

खूंखार वन्य जीवों के आतंक में जी रहे पहाड़वासियों के लिए राहत देने वाली खबर आई है। कुमाऊं के रानीखेत क्षेत्र मेंं पिछले कई दिनों से सक्रिय आदमखोर गुलदार को वन विभाग की तरफ से तैैैनात शिकारी ने मार गिराया है। गौरतलब है कि आदमखोर गुलदार ने पिछले दिनों एक ग्रामीण और एक पालतू पशु को मार डाला था। दहशत का सबब बने गुलदार के मारे जाने के बाद इलाके में राहत का  माहौल है।

ज्ञात हो कि मारे गए गुलदार ने इसी महीने 7 तारीख को रानीखेत तहसील के सुदूर रैलीटाना चमड़खान में   रमेश दत्त पंत उर्फ रघुवर (60) को हमला कर मार दिया था। इसके ​बाद गुलदार ने गांव में ही एक मवेशी को भी अपना शिकार बनाया था। गुलदार के बढ़ती सक्रियता से आतंकित ग्रामीण वन विभाग से गुलदार को आदमखोर घोषित कर उसे मारने की मांग कर रहे  थे। उसके बाद प्रभागीय वनाधिकारी महातिम यादव ने  मौका मुआयना कर उच्च अधिकारियों को अपनी रिपोर्ट दी थी। उनकी संस्तुति पर वन्यजीव प्रतिपालक ने गुलदार को क्षेत्र में इंसानों के लिए खतरा मानते हुए उसके खात्मे की मंजूरी दे दी थी। इसके बाद वन विभाग ने गुलदार को मारने के लिए कानपुर से शूटर आसिफ सैफी को बुलाया। अपनी टीम के साथ देर रात रैलीटाना पहुंचे शिकारी असिफ ने रात में ही क्षेत्र की गश्त की। हालांकि तब गुलदार की कोई मूवमेंट नहीं मिली। फिर दिन में घटना स्थल के समीप ही गांव के एक मकान की छत पर मचान बनाया गया।
डीएफओ महातिम यादव ने बताया कि गुरुवार की देर शाम करीब साढ़े 7 बजे गुलदार मवेशी को मारे जाने वाले स्थान की ओर आ रहा था। जिसे शिकारी सैफी ने एक ही गोली में ढेर कर दिया। मारी गई मादा गुलदार 11 से 12 साल की है। गुलदार के शव का पोस्टमार्टम कर विभागीय नियमानुसार उसे नष्ट किया जाएगा। बहरहाल, ग्रामीणों ने गुलदार के मारे जाने पर राहत की सांस ली है।