Home राजनीति राजनीतिः आप ने भाजपा मुख्यालय पर बजाई ताली—थाली

राजनीतिः आप ने भाजपा मुख्यालय पर बजाई ताली—थाली

197
0

संवाददाता
देहरादून, 5 जून।

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आज भाजपा मुख्यालय पर वरिष्ठ नेता रविंद्र जुगरान के नेतृत्व में कृषि बिलों के विरोध में सांकेतिक धरना देकर प्रदर्शन किया।
आज आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता हाथों में थाली और कृषि बिलों की प्रतियां लेकर बीजेपी मुख्यालय के बाहर पहुंचे और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आप कार्यकर्ताओं ने थाली और ताली बजाकर सरकार के खिलाफ जम कर नारेबाजी की। इस दौरान पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को भाजपा मुख्यालय से पहले ही बेरिकेड लगाकर रोक दिया जिसके बाद आप कार्यकर्ता वहीं बैठकर धरना प्रदर्शन करते रहे। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने कृषि कानून के बिलों की प्रतियां आप फाड़कर अपना विरोध जताया। प्रदर्शन के दौरान आप कार्यकर्ता लगातार थाली और ताली बजाते रहे।


इस मौके पर आप नेता रविंद्र जुगरान ने इस दौरान कहा कि केंद्र की मोदी सरकार पूरी तरह दमनकारी नीति पर आ गई है। केंद्र सरकार किसानों के भविष्य को चौपट करने के मकसद और उघोगपतियों को फायदा पहुंचाने के मकसद से इन तीनों बिलों को किसानों पर थोपने का प्रयास कर रही जिसे किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा भारत के किसान पिछले 6 महीने से भी ज्यादा समय से सड़कों पर काले कानून का विरोध कर रहे लेकिन केंद्र की तानाशाह सरकार की कानों में जूं तक नहीं रेंग रही को बेहद शर्मनाक है। इसी के चलते आज आप के कार्यकर्ता बीजेपी कार्यालय में उन जनप्रतिनिधियों को जगाने आए हैं जो कृषि कानूनों पर कुंभकर्णी नींद सो रहे हैं।
जुगरान ने कहा कि आम आदमी पार्टी लगातार तब तक इन काले कानूनों के खिलाफ अपना प्रदर्शन जारी रखेगी जब तक केंद्र सरकार इन काले कानूनों को वापिस नहीं ले लेती है। इसके अलावा आप कार्यकर्ताओं ने जनप्रतिनिधियों को चेताते हुए कहा कि किसानों के समर्थन में इन बिलों का विरोध नहीं किया तो आने वाले समय में किसान जनप्रतिनिधियों को सबक सिखाने की तैयारी कर रहे हैं।
इस प्रदर्शन में आप के प्रवत्तQा नवीन पीरशालि, उमा सिसोदिया, रविंद्र आनंद, डिंपल सिंह, भरत सिंह, संजय भटृ, सीमा कश्यप, विनोद कुमार, हिमांशु पुंडीर, जितेंद्र पंत, पंकज अरोड़ा, श्रीचंद आर्य, सिखा गुप्ता, अशोक सेमवाल, सुनील घाघट, सुशील सैनी, अमित अग्रवाल, राहुल भटृ, वीरेंद्र सिंह, धर्मेंद्र ठाकुर, राजेश शर्मा, प्रीति गुप्ता समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।