Home उत्तराखंड गणेशपुरम को पाबंद करने पर लोगों ने काटा हंगामा

गणेशपुरम को पाबंद करने पर लोगों ने काटा हंगामा

28
0

हरिद्वार,5 अप्रैल। कनखल में गणेशपुरम को पाबंद करने पर सोमवार को लोगों ने हंगामा काट दिया। इस कॉलोनी में दो दिन पहले एक साथ 13 लोग कोरोना संक्रमित मिले थे। वहीं एक संक्रमित की मौत हुई थी। जिसके बाद इस कॉलोनी को सील कर दिया गया था। अब यहां के लोगों ने मांग की है कि केवल संक्रमितों की गली को सील किया जाए। सोमवार को लोगों ने अपनी की इस मांग को लेकर हंगामा कर दिया। जिसके बाद पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची। किसी तरह से लोगों को समझाबुझाकर शांत कराया।
बता दें कि गणेशपुरम कालोनी में एक कोरोना संक्रमित व्यापारी की मौत हो गई थी। व्यापारी परिवार के 13 लोग भी कोविड संक्रमित मिले। प्रशासन ने पूरी कालोनी को सील कर कंटेनमेंट जोन बना दिया। जानकारी के अनुसार कनखल में होली के ठीक अगले दिन गणेशपुरम निवासी 74 वर्षीय व्यापारी को बुखार और सांस लेने में तकलीफ होने लगी। परिजनों ने उनको बहादराबाद स्थित जया मैक्सवेल अस्पताल में भर्ती कराया। जांच में कोरोना संक्रमित की पुष्टि हुई। गुरुवार को चिकित्सकों ने व्यापारी की नाजुक हालत को देखते हुए उन्हें एम्स अस्पताल ऋषिकेश रेफर किया था। एम्स अस्पताल में व्यापारी की मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने रुड़की की एक प्राइवेट लैब से अपनी आरटीपीसीआर कोविड जांच कराई। लैब टीम ने घर से ही परिवार के स्वैब सैंपल एकत्र किए। शुक्रवार शाम को आई कोरोना जांच रिपोर्ट में व्यापारी के दोनों बेटों सहित परिवार के 11 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई।शनिवार को तहसीलदार आशीष घिल्डियाल और नायाब तहसीलदार ललित पोखरियाल टीम सहित गणेशपुरम कालोनी पहुंचे। टीम ने कालोनी को सील करने के साथ पुलिस तैनात कर दी। प्रशासन ने कालोनी में मुनादी करा कर लोगों को बाहर न निकलने की सलाह दी है। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों को चिन्हित करने और कोविड सैंपलिंग के लिए टीम नहीं भेजी। स्थानीय पार्षद शुभम मैंदोला अनाज मंडी स्थित प्रेम अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र की प्रबंध निदेशक डा. संध्या शर्मा से संपर्क किया। डॉ. संध्या शर्मा ने अपनी पैथोलॉजी जांच टीम को मौके पर भेज दिया।