Home Home लापरवाह कार्मिकों पर भारी पड़ रही है एक महिला आईएएस अधिकारी

लापरवाह कार्मिकों पर भारी पड़ रही है एक महिला आईएएस अधिकारी

163
0

चमोली – जनपद में विभिन्न विभागों के लापरवाह और कामचोर अफसरों व कर्मचारियों में इन दिनों हड़कंप का माहौल बना हुआ है। इसकी वजह है तेज़तर्रार महिला जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया। डीएम भदौरिया ने ड्यूटी में लापरवाही बरतने वाले तमाम अधीनस्थ अधिकारियों व कर्मचारियों के पेंच कसने शुरू कर दिए हैं। इसी क्रम में
जिलाधिकारी/प्रशासक जिला पंचायत स्वाति एस भदौरिया ने बुधवार को जिला पंचायत कार्यालय के विभिन्न अनुभागों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत के भूतल पर एनसीसी को किराए पर दिए गए कक्ष में एनसीसी के कार्मिक व जिला पंचायत का वाहन चालक डयूटी के दौरान कैरम खेलते पाए गए। जिलाधिकारी ने मौके पर ही एएमए जिला पंचायत को निर्देश दिए कि तत्काल वाहन चालक को प्रतिकूल प्रविष्टि दें और भविष्य के लिए सचेत करें। कहा कि आफिस टाईम में कर्मचारियों का कैरम खेलना घोर अनुशानहीनता है। इसके साथ ही उन्होंने एनएसीसी को किराए पर दिए गए स्पोर्टस एवं टीवी कक्ष को भी तत्काल खाली कराने को कहा। जिला पंचायत के कार्मिकों की उपस्थिति पंजिका अवलोकन में दो कर्मचारी उपार्जित अवकाश तथा एक कर्मचारी पितृत्व अवकाश पर पाए गए। जिलाधिकारी भदौरिया ने जिला पंचायत के सभी कर्मचारियों की वायोमैट्रिक्स उपस्थिति की डिटेल भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। 
जिलाधिकारी ने जिला पंचायत में सार्वजनिक निर्माण अनुभाग, सामान्य अनुभाग, लेखा अनुभाग, प्रशासनिक, राजस्व एवं कर अनुभागों का निरीक्षण भी किया। पिछले वित्तीय वर्ष 2018-19 में राज्य वित्त के तहत स्वीकृत 441 निर्माण कार्यों में से अभीतक केवल 36 कार्य ही पूर्ण होने पर सहायक अभियंता को जमकर फटकार लगाई और सहायक अभियंता को तत्काल चेतावनी जारी करने के निर्देश एएमए को दिए। उन्होंने एएमए को निर्माण कार्यो का व्यक्तिगत रूप से माॅनिटरिग करने को भी कहा। राज्य वित्त के तहत जिला पंचायत को 8.49 करोड़ की स्वीकृत धनराशि में से अभी तक 46 लाख ही निर्माण कार्यों पर व्यय किया गया है। इसके देखते हुए जिलाधिकारी ने सहायक अभियंता को लंबित निर्माण कार्यो में तेजी लाते हुए जल्द अवशेष कार्यों को पूर्ण कराने के निर्देश दिए।