Home उत्तराखंड कामकाज: जनता दरबार में निबटायी गयीं   ग्रामीण जनता की 32  समस्याएं

कामकाज: जनता दरबार में निबटायी गयीं   ग्रामीण जनता की 32  समस्याएं

75
0
दिलबर सिंह बिष्ट
 रुद्रप्रयाग- शासन के निर्देशों के क्रम में  सोमवार को यहां पुराने विकास भवन में जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की अध्यक्षता में जनता दरबार का आयोजन किया गया, जिसमें जनपद के विभिन्न दूरस्थ क्षेत्रों से आए हुए फरियादियों द्वारा 55 शिकायतें दर्ज कराई गईं। जनता दरबार में प्राप्त 55 शिकायतों में से 32 शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया। जिलाधिकारी ने अवशेष शिकायतों के सम्बन्ध में अधिकारियों को निर्धारित एक सप्ताह के भीतर निस्तारण के निर्देश दिए। कहा कि निस्तारण की कार्यवाही से संबन्धित शिकायतकर्ता को भी अवगत कराना सुनिश्चित करें।
जनता दरबार में श्रीमती हरिबोधनी देवी ग्राम -सौड, भट्टगांव (अमरगौण्डा) ने सौरगढ़-क्यार्क मोटर मार्ग से सौड-अमरगौण्डा लिंक रोड़ निर्माण के लिए नयी सर्वे आपत्ति के सम्बन्ध में, पूर्व प्रधान  रणजीत सिंह चौधरी, ग्रामसभा- क्वांली ने ग्राम तोरियाल से दिऊली के मध्य पैदल मार्ग बनवाने तथा पशु चिकित्सा केन्द्र  ‘तोलगांव‘‘ में चिकित्सक की तैनाती के सम्बन्ध में,  विमलचन्द्र, ग्राम- नागजगई ने गौरीकुण्ड से केदारनाथ तक रोपवे निर्माण के सम्बन्ध में,  रघुबीर सिंह ग्राम- मवाणा ने निर्माणाधीन कोट- घोलतीर सड़क मोटर मार्ग में अधिग्रहित जमीन के मुआवजे के संबंध में, श्रीमती परमेश्वरी देवी, ग्राम- गडोरा ने आवासीय भवन को खतरा होने के संबंध में,  जगत सिंह, ग्राम तालजामण ने आवासीय मकान जो सड़क के पानी से क्षतिग्रस्त होने के कारण मुआवजा दिए जाने के संबंध में, कुवंर सिंह बुटोला, ग्राम- हाट ने हाट – मन्दाकिनी नदी में ट्राली पर किये गये कार्य के वेतन भुगतान के संबंध में, पूरण सिंह,  ग्राम- सैम, पट्टी – बडमा ने विजयनगर- तैला मोटर मार्ग पर सिंचित खेत के दबान का मुआवजा दिलाने के संबंध में,  धर्मेन्द्र सिंह राणा, ग्राम- तुलंगा ने रमसा के तहत ग्राम सभा तुलंगा में हुए विद्यालय भवन निर्माण में ग्रामीणों का भुगतान न होने के संबंध में, योगेन्द्र सिंह एवं  विक्रम सिंह, ग्राम- तुलंगा ने मनरेगा के तहत किये गये कार्यों के भुगतान न होने के संबंध में, समस्त काश्तकार, ग्राम नगूडी (क्यूंजा) ने ग्राम पंचायत क्यूंजा के अन्तर्गत राजस्व ग्राम- नगूडी में लघु सिंचाई की नहर के क्षतिग्रस्त होने के संबंध में शिकायत दर्ज की।
इस अवसर प्रभारी पुलिस अधीक्षक एस.के.सिंह, मुख्य विकास अधिकारी एसएस चौहान, उपजिलाधिकारी वृजेश तिवाड़ी, सुधीर कुमार, एन.एस. नगन्याल, तहसीलदार किशन गिरि, जिला उद्यान अधिकारी योगेन्द्र चौधरी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डाॅ रमेश नितवाल, जिला पूर्ति अधिकारी के.एस. कोहली, जिला शिक्षाअधिकारी माध्यमिक एल.एस.दानू, मुख्य कृषि अधिकारी एस.एस. वर्मा, सहित अन्य अधिकारी एवं फरियादी उपस्थित थे।